लखनऊ: निर्माण कराने वालों पर ही हवा शुद्ध रखने की जिम्मेदारी, देना होगा 'फोटो वाला सबूत'

जिलाधिकारी ने कहा कि प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा टीमें गठित कर लखनऊ शहर एवं आस-पास संचालित वायु प्रदूषणकारी औद्योगिक इकाईयों, निर्माणधीन परियोजनाओं का निरीक्षण कर दोषी औद्योगिक इकाईयों एवं निर्माण परियोजनाओं के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

लखनऊ: निर्माण कराने वालों पर ही हवा शुद्ध रखने की जिम्मेदारी, देना होगा 'फोटो वाला सबूत'
लखनऊ डीएम अभिषेक प्रकाश (L).

लखनऊ: राजधानी लखनऊ में वायु प्रदूषण और स्मॉग लगातार बढ़ता जा रहा है.  लखनऊ  DM अभिषेक प्रकाश ने उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा तैयार की गयी कार्य योजना के तहत इसे नियंत्रित करने के आदेश दिए.

टीम गठित कर हो निगरानी
जिलाधिकारी ने कहा कि प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा टीमें गठित कर लखनऊ शहर एवं आस-पास संचालित वायु प्रदूषणकारी औद्योगिक इकाईयों, निर्माणधीन परियोजनाओं का औचक निरीक्षण सुनिश्चित कराते हुए दोषी औद्योगिक इकाईयों एवं निर्माण परियोजनाओं के विरूद्ध कार्रवाई की जाएगी. इसके साथ ही डस्ट कन्ट्रोल आडिट किया जाए.

यह भी पढ़ें - आयुष्मान कार्ड बनवाने के नाम पर मजदूरों से लगवाया अंगूठा, खातों से लाखों किए पार

उन्होंने कहा कि प्रशासनिक अधिकारियों से भी निर्माणाधीन परियोजनाओं का औचक निरीक्षण कराया जायेगा, निरीक्षण में यदि प्रदूषण नियंत्रण हेतु  दिये गये निर्देशों के अनुपालन में व्यवस्थायें सुनिश्चित नही मिलती है तो कार्यदायी संस्था के विरूद्ध जुर्माना और उत्तरदायी विभाग के अधिकारियों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी.

शहर में हो जल छिड़काव
बैठक में निर्देश दिए गए कि शहर में निर्माणाधीन परियोजनाओं की डस्ट आदि को रोकने के लिये जल का छिड़काव किये जाने, ग्रीन नेट की व्यवस्था, निर्माण सामग्री को ढक कर रखने,वृहद परियोजनाओं पर एनटी स्मोक गन तथा पीड़ी जेड कैमरा की स्थापना किये जाने की कार्यवाही प्राथमिकता से सुनिश्चित करायी जाए.

सेल्फ डस्ट कन्ट्रोल आडिट Dustapp.upecp.in पर हो अपलोड
निर्माण सामग्री के परिवहन में प्रयुक्त वाहनों को कवर्ड कर ही परिवहन किया जाए. डस्ट कन्ट्रोल हेतु निर्माण परियोजनाओं द्वारा सेल्फ डस्ट कन्ट्रोल आडिट Dustapp.upecp.in पर  अपलोड किया जाएं. प्रत्येक संस्था अपने निर्माणाधीन प्रोजेक्ट की डिटेल और सभी व्यवस्था मानक के अनुरूप सुनिश्चित कराते हुए फोटोग्राफ कल तक उपलब्ध कराएं.  उन्होंने कहा कि जो कार्यदायी संस्था द्वारा कल तक डिटेल उपलब्ध नही करायी जाती है सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित कराते हुए उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

WATCH LIVE TV

'