close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लखनऊ: चिन्मयानंद की हालत में थोड़ा सुधार, प्राइवेट वार्ड में किया गया शिफ्ट

Swami Chinmayanand: उनका इलाज हृदय रोग विभाग के प्रमुख प्रो. पी.के. गोयल कर रहे हैं. उन्होंने बताया कि बताया कि अब उनकी हालात स्थिर है. डायबिटीज के कारण शुगर के स्तर को नियंत्रित करने के साथ दिल की दवाएं शुरू की जा रही हैं. स्थिति ठीक होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी जाएगी.

लखनऊ: चिन्मयानंद की हालत में थोड़ा सुधार, प्राइवेट वार्ड में किया गया शिफ्ट
स्वामी चिन्मयानंद पर दुष्कर्म तथा यौन शोषण के आरोप मामले में 14 दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में हैं.

लखनऊ: यौन शोषण (Sexual Abuse) और दुष्कर्म मामले में गिरफ्तार स्वामी चिन्मयानंद (Swami Chinmayananda) की हालत में सुधार के बाद उन्हें संजय गांधी पीजीआई (Sanjay Gandhi PGI) के एमआइसीयू से कार्डियोलाजी विभाग के प्राइवेट वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया है. चिन्मयानंद की सेहत खराब होने के बाद उन्हें यहां के एसजीपीजीआई में भर्ती कराया गया था. उनका इलाज हृदय रोग विभाग (Heart Disease Department) के प्रमुख प्रो. पी.के. गोयल कर रहे हैं.

गोयल ने बताया कि अब उनकी हालात स्थिर है. डायबिटीज के कारण शुगर के स्तर को नियंत्रित करने के साथ दिल की दवाएं शुरू की जा रही हैं. स्थिति ठीक होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी जाएगी.

उन्होंने बताया कि अल्ट्रासाउंड सहित अन्य परीक्षण कर देखा जा रहा है कि कहीं कोई परेशानी तो नहीं है. शुगर का स्तर अनियंत्रित होने की वजह से शरीर के दूसरे अंगों पर कुप्रभाव की आशंका रहती है, जिसका पता करना जरूरी है. शुगर का स्तर नियंत्रित किया जा रहा है.

लाइव टीवी देखें

आपको बता दें कि चिन्मयानंद सोमवार सुबह शाहजहांपुर से लखनऊ पहुंचे थे. उन्हें कड़ी सुरक्षा के बीच एसजीपीजीआई लाया गया और आइसीयू में भर्ती किया गया. उनको चेस्ट पेन की शिकायत थी. शाहजहांपुर के डॉक्टरों ने एंजियोग्राफी के लिए लखनऊ रेफर कर दिया.

पीजीआई के सीएमएस डॉ. अमित अग्रवाल के मुताबिक, सोमवार सुबह 11.45 बजे चिन्मयानंद को भर्ती किया गया. यहां आईसीयू में शिफ्ट कर ईसीजी-ईको जांच की गई. हृदय रोग विभाग के प्रमुख प्रो़ पी.के. गोयल की देखरेख में इलाज शुरू हुआ.

पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद पर दुष्कर्म तथा यौन शोषण के आरोप मामले में 14 दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में जेल भेए गए हैं, जहां उनकी तबीयत बिगड़ने लगी थी. इसी कारण उन्हें लखनऊ के पीजीआई में भर्ती कराया गया है, जहां उनका इलाज चल रहा है.

इनपुट- आईएएनएस