UP के बाल व महिला गृहों में फैला कोरोना वायरस, अब तक 21 महिलाएं और 155 बच्चे संक्रमित

उत्तर प्रदेश में 56 सरकारी बाल और महिला गृह मौजूद हैं. सभी संक्रमितों को बाल और महिला गृहों में ही आइसोलेट किया गया है. इनके इलाज के लिए डॉक्टरों की टीम अटैच की गई है.

UP के बाल व महिला गृहों में फैला कोरोना वायरस, अब तक 21 महिलाएं और 155 बच्चे संक्रमित
सांकेतिक तस्वीर.

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर राज्य के बालगृह और महिला गृह तक पहुंच गया है. यूपी के बाल और महिला गृहों में अब तक 21 महिलाओं समेत 155 बच्चे कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं. अकेले राजधानी लखनऊ के मोतीनगर स्थित बालिका बालगृह में 32 संवासनियां कोविड से संक्रमित मिली हैं. इनमें एक मानसिक दिव्यांग और दो गर्भवती हैं. 

ग्वालियर में बंधक बनी UP Police, 10 हत्याओं के आरोपी और उसके साथी को गई थी पकड़ने

बाल आयोग और बाल कल्याण समिति को इसकी सूचना मिली तो बुधवार शाम संक्रमितों को अलग शिफ्ट करने की व्यवस्था हो पाई. इनमें 29 संक्रमित बालिकाओं को गुरुवार सुबह निरालानगर स्थित आइसोलेशन सेंटर शिफ्ट किया गया. मानसिक दिव्यांग और दोनों गर्भवती को बालगृह में ही आइसोलेट किया गया है. लखनऊ के बालिका बालगृह में 97 संवासनियां रह रही हैं. 

फिल्म से कम नहीं करवरिया बंधु के जुर्म की कहानी, पूरे शहर में सुनाई दी थी AK-47 की गूंज

उत्तर प्रदेश में 56 सरकारी बाल और महिला गृह मौजूद हैं. सभी संक्रमितों को बाल और महिला गृहों में ही आइसोलेट किया गया है. इनके इलाज के लिए डॉक्टरों की टीम अटैच की गई है. बाल और महिला गृह वाले जिलों में डीएम की अध्यक्षता में टास्क फोर्स का गठन हुआ है. टास्क फोर्स के जिम्मे सभी के इलाज और सुरक्षा व्यवस्था की व्यवस्था सौंपी गई है.

न्यायिक कसौटी पर खरे न उतरने वाले आदेश देने से बचें न्यायिक अधिकारी-इलाहाबाद हाई कोर्ट

संक्रमित पाए जाने के बाद बच्चों और बालिकाओं को भले ही दो कमरों में रखने की बात की जा रही हो, लेकिन इनके एक ही परिसर में रहने से अन्य में भी संक्रमण फैलने का खतरा है. अधिकारियों का कहना है कि सभी बाल और महिला गृहों की लगातार निगरानी की जा रही है. सैनिटाइजेशन किया जा रहा है. जरूरत हुई तो इन्हें दूसरी जगह शिफ्ट करने की व्यवस्था की जाएगी. 

WATCH LIVE TV