गैंगरेप आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर सीएम योगी से मिलने पहुंचे

उन्नाव सदर से बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर और उनके दोस्तों पर गैंगरेप का आरोप लगाने वाली युवती के पिता की पुलिस हिरासत में मौत के बाद यह मामला तूल पकड़ लिया है. अपने ऊपर लगे आरोपों के बाद बीजेपी विधायक सीएम योगी आदित्यनाथ से मिलने एनेक्सी बिल्डिंग पहुंचे. 

गैंगरेप आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर सीएम योगी से मिलने पहुंचे
योगी आदित्यनाथ से मिलने पहुंचा गैंगरेप आरोपी बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर. (फोटो-ANI)

उन्नाव/लखनऊ: उन्नाव सदर से बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर और उनके दोस्तों पर गैंगरेप का आरोप लगाने वाली युवती के पिता की पुलिस हिरासत में मौत के बाद यह मामला तूल पकड़ लिया है. अपने ऊपर लगे आरोपों के बाद बीजेपी विधायक सीएम योगी आदित्यनाथ से मिलने एनेक्सी बिल्डिंग पहुंचे. अपने ऊपर लगे आरोपों को लेकर उन्होंने कहा कि मेरे खिलाफ साजिश हुई है, मुझे फंसाने की कोशिश की जा रही है. उन्होंने इस मामले में उच्च स्तरीय जांच की मांग की है. मुख्यमंत्री से मिलने के लिए आने को लेकर उन्होंने कहा कि मुझे बुलाया नहीं गया है, बल्कि मैं खुद उनसे मिलने आया हूं.

सेंगर ने आरोप से इनकार किया और कहा कि यह उनकी छवि धूमिल करने का एक षड्यंत्र है. उन्होंने कहा था, 'यह मेरी छवि और प्रतिष्ठा धूमिल करने के लिए मेरे राजनीतिक विरोधियों द्वारा रचा गया एक षड्यंत्र है...मुझे जांच से कोई समस्या नहीं है. जांच होने दीजिये और दोषी को कड़ी सजा होनी चाहिए. जांच में यदि मैं दोषी पाया जाता हूं तो मैं सजा का सामना करने के लिए तैयार हूं.'

 

 

इस पूरे मामले को लेकर प्रदेश के DGP ओपी सिंह ने कहा, 'मामले की जांच के लिए पहले ही टीम का गठन किया जा चुका है. वह टीम लखनऊ से उन्नाव पहुंच चुकी है. जिसका भी नाम FIR में दर्ज है, उसे तुरंत गिरफ्तार किया जाएगा. पीड़िता के पिता की मौत किस परिस्थिति में हुई इसकी जांच की जा रही है. जांच के बाद दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.' 

 

 

सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस मामले पर दुख जताया है. उन्होंने कहा कि लखनऊ के ADG को इस मामले की गंभीरता से जांच के आदेश दे दिए गए हैं. इस मामले में जो कोई आरोपी होगा, उसे छोड़ा नहीं जाएगा. युवती और उसके परिवार वालों ने रविवार को लखनऊ में मुख्यमंत्री आवास के बाहर खुदकुशी करने की कोशिश की थी. युवती ने रविवार दोपहर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सरकारी आवास के पास परिवार के साथ पहुंचकर आत्मदाह करने की कोशिश की थी.

 

 

बता दें बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर और उनके सहयोगियों पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली युवती के पिता की सोमवार (9 अप्रैल) को कथित तौर पर पुलिस हिरासत में मौत हो गई. उसे बीते रविवार (8 अप्रैल) को गिरफ्तार किया गया था. उन्नाव के जिला अस्पताल के डॉक्टर अतुल ने बताया, 'पेट दर्द और उल्टी की शिकायत के बाद व्यक्ति को देर रात अस्पताल में भर्ती कराया गया था. सुबह उसकी मौत हो गई. व्यक्ति को पुलिस ने अस्पताल में भर्ती कराया था.'

पुलिस हिरासत में मौत पर 2 पुलिस अधिकारी और 4 कॉन्स्टेबल को निलंबित कर दिया गया है. उन्नाव की पुलिस अधीक्षक पुष्पांजलि देवी ने कहा, 'घटना की गंभीरता को देखते हुए 2 पुलिस अधिकारी और 4 कॉन्स्टेबल को निलंबित कर दिया गया है, जबकि बलात्कार पीड़िता के पिता को पीटने वाले चार आरोपियों सोनू, बउवा, विनीत और शैलू को गिरफ्तार कर लिया है.' विधायक पर जेल में हत्या कराये जाने के आरोप के बारे में पूछे जाने पर पुलिस अधीक्षक ने कहा कि इस बारे में अभी कुछ नहीं कहा जा सकता. मामले की मजिस्ट्रेट से जांच के आदेश दिये गए हैं. जिलाधिकारी रवि कुमार एनजी ने कहा कि जब दोनों पक्षों की ओर से मुकदमा दर्ज कराया गया था तो एक पक्ष को ही जेल क्यों भेजा गया, इसकी जांच कराई जाएगी. साथ ही मृतक का डाक्टरों के पैनल से पोस्टमार्टम कराने के आदेश दिए गए हैं.