योगी सरकार गरीबों-जरूरतमंदों को 3 महीने देगी मुफ्त राशन, दैनिक कामगारों को 1000 रुपए

मुख्यमंत्री ने रोज कमाने और रोज खाने वाले दिहाड़ी मजदूरों और कामगारों को अपनी आजीविका चलाने के लिए भरण-पोषण भत्ता प्रदान करने का फैसला लिया.

योगी सरकार गरीबों-जरूरतमंदों को 3 महीने देगी मुफ्त राशन, दैनिक कामगारों को 1000 रुपए
सांकेतिक तस्वीर.

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में शनिवार को हुई वर्चुअल कैबिनेट बैठक में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के कारण लागू कर्फ्यू को 24 मई तक बढ़ाने का फैसला किया. इस बीच गरीबों और जरूरतमंदों को अगले तीन महीने तक मुफ्त राशन देने का अहम फैसला लिया गया. 

छेड़छाड़ के आरोपी के खिलाफ बैठी पंचायत, सबके सामने की जूतों से पिटाई, फिर हुआ ये...

इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने रोज कमाने और रोज खाने वाले दिहाड़ी मजदूरों और कामगारों को अपनी आजीविका चलाने के लिए भरण-पोषण भत्ता प्रदान करने का फैसला लिया. अगले 3 माह तक गरीब और जरूरतमंद परिवारों को प्रति यूनिट 3 किलो गेहूं और 2 किलो चावल मुफ्त दिया जाएगा. इसके फैसले से प्रदेश के लगभग 15 करोड़ लोगों को लाभ मिल सकेगा.

गंगा अब और होगी निर्मल, मेंहदौरी सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट की बढ़ेगी क्षमता, सभी नाले हो जाएंगे टैप

सीएम योगी ने बैठक के दौरान शहरी क्षेत्रों में दैनिक रूप से कार्य कर अपनी आजीविका चलाने वाले ठेला, खोमचा, रेहड़ी, खोखा, पटरी दुकानदार, दिहाड़ी मजदूर, रिक्शा चालक, पल्लेदार, नाई, धोबी, मोची, हलवाई जैसे परंपरागत कामगारों को 1 माह के लिए 1000 रुपए का भरण-पोषण भत्ता प्रदान करने का निर्देश दिया है. इस भत्ते से यूपी के 1 करोड़ गरीबों को सीधे लाभ मिलेगा.

WATCH LIVE TV