महाकुंभ 2021: हरिद्वार में कल होगा पहला शाही स्नान, इस क्रम में अखाड़े लगाएंगे मां गंगा में डुबकी

सात सन्यासी अखाड़े और तीन बैरागी अखाड़े व तीन वैष्णव अखाड़े कल हर की पौड़ी ब्रह्मकुंड पर शाही स्नान करेंगे. प्रशासन अखाड़ों को शाही स्नान कराने की व्यवस्था की गई है.

महाकुंभ 2021: हरिद्वार में कल होगा पहला शाही स्नान, इस क्रम में अखाड़े लगाएंगे मां गंगा में डुबकी
फाइल फोटो.

हरिद्वार: सोमवार को होने जा रहे पहले शाही स्नान के लिए तैयारियां की जा रही हैं. शाही स्नान पर सभी तेरह अखाड़े मां गंगा में स्नान करेंगे. जिसमें सात सन्यासी अखाड़े और तीन बैरागी अखाड़े व तीन वैष्णव अखाड़े कल हर की पौड़ी ब्रह्मकुंड पर शाही स्नान करेंगे. प्रशासन अखाड़ों को शाही स्नान कराने की व्यवस्था की गई है. सभी अखाड़े इस क्रम में स्नान करेंगे. 

1: सबसे पहले निरंजनी अखाड़ा अपने साथी आनंद के साथ अपनी छावनी से 8 :30 बजे चलेगा और हर की पौड़ी पर पहुंचकर मां गंगा में स्नान करेगा.

2 : उसके बाद 9 बजे जूना अखाड़ा व अग्नि ,आवाहन और किन्नर अखाड़ा को स्नान के लिए दिया गया है.  जूना अखाड़े से निकलकर हर की पौड़ी ब्रह्मकुंड में स्नान करेगा.

3: उसके बाद महानिर्वाणी अपने साथी अटल के साथ कनखल से हर की पौड़ी की ओर 9 : 30 बजे रुख करेगा.

4: इसके बाद बाद  तीनों बैरागी अखाड़े श्री निर्मोही अणी, दिगंबर अणी, निर्वाणी अणी 10:30 बजे चलकर हर की पौड़ी पहुंचेंगे.

5: उसके बाद श्री पंचायती बड़ा उदासीन अखाड़ा 12:00 बजे अपने अखाड़े से हर की पौड़ी की ओर रुख करेगा.

6: इसके बाद  बाद श्री पंचायती नया उदासीन लगभग 2:30 बजे अपने अखाड़े की हर की पौड़ी पौड़ी की रुख करेगा.

7: आखिर में श्री निर्मल अखाड़ा लगभग 3:00 के करीब अपने अखाड़े से हर की पौड़ी की ओर रूख करेगा.

किसी भी व्यक्ति को नहीं मिलेगी स्नान की अनुमति
इस बीच हर की पौड़ी ब्रह्मकुंड पर सुबह 8:00 बजे से लेकर जब तक सभी अखाड़े के स्नान नहीं कर लेते तब तक किसी भी व्यक्ति का ब्रह्मकुंड पर स्नान करना प्रतिबंध रहेगा मेला प्रशासन के द्वारा की गई गाइडलाइन के अनुसार पब्लिक किसी भी अन्य घाट पर स्नान कर सकती है.

प्रशासन ने की तैयार
शाही स्नान की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर प्रशासन ने तैयारी पूरी कर ली है. डीजीपी अशोक कुमार शाही स्नान के दौरान हरिद्वार में मौजूद रहकर मेले की सुरक्षा व्यवस्थाओं की पल-पल की जानकारी लेंगे. पुलिस प्रशासन ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम करने का दावा किया है. साथ ही वाहनों के आवाजाही पर भी नजर रखी जा रही है. हरिद्वार क्षेत्र में भारी वाहनों के प्रवेश पर 15 अप्रैल तक रोक लगाई गई है.

WATCH LIVE TV