मस्जिद में हुआ था धमाका, पुलिस जांच में हुआ चौंकाने वाला खुलासा, मौलवी ने कबूला गुनाह

फॉरेंसिक रिपोर्ट में इस बात की पुष्टि हो गई है कि विस्फोट मस्जिद में जमा विस्फोटकों से हुआ था. 

मस्जिद में हुआ था धमाका, पुलिस जांच में हुआ चौंकाने वाला खुलासा, मौलवी ने कबूला गुनाह
शुरुआत में इस विस्फोट के पीछे इन्वर्टर की बैटरी का फटना माना जा रहा था.

कुशीनगर: उत्तर प्रदेश के कुशीनगर स्थित एक मस्जिद में विस्फोट मामले में पुलिस ने मौलवी सहित चार लोगों को गिरफ्तार किया है. मामले में पुलिस ने सात लोगों पर प्राथमिकी दर्ज की थी. गिरफ्तार किए गए चार नामजदों में उसी मस्जिद का मौलवी मौलाना अजमुद्दीन भी शामिल है, वहीं तीन आरोपी अभी भी फरार हैं. मस्जिद में सोमवार को हुए विस्फोट के पीछे के कारणों का अभी पता नहीं चल पाया है.

वहीं, फॉरेंसिक रिपोर्ट में इस बात की पुष्टि हो गई है कि विस्फोट मस्जिद में जमा विस्फोटकों से हुआ था. शुरुआत में इस विस्फोट के पीछे इन्वर्टर की बैटरी का फटना माना जा रहा था. अब इसकी जांच में एटीएस गोरखपुर, खुफिया एजेंसी और लोकल इंटेलिजेंस यूनिट (एलआईयू) की टीमें भी शामिल हो गई हैं.

सोमवार दोपहर को यहां के बैरागी पट्टी गांव में विस्फोट हुआ था. रिपोर्ट के अनुसार, यह विस्फोट इतना जबरदस्त था कि मस्जिद के दरवाजे और खिड़कियां भी हवा में उड़ गए थे. पूछताछ के दौरान मौलवी ने यह मान लिया कि उसने कुछ अन्य युवकों के साथ मस्जिद में विस्फोटक रखे थे. कुशीनगर के पुलिस अधीक्षक (एसपी) विनोद कुमार ने बताया कि गिरफ्तार किए गए अन्य आरोपियों के नाम इजहार, आशिक और जावेद हैं. ये सभी आरोपी बैरागी पट्टी के रहने वाले हैं.