राज्यों से विदा हो रही है BJP, अगर कांग्रेस की राह पर चलेगी तो देश से भी विदा हो जाएगी: मायावती

 'हर धर्म जाति और वर्ग परेशान है. केंद्र की गलत नीतियों की वहज से शांति-व्यवस्था खराब है. देश नेगेटिव वजहों से सुर्खियों में है.'

राज्यों से विदा हो रही है BJP, अगर कांग्रेस की राह पर चलेगी तो देश से भी विदा हो जाएगी: मायावती

लखनऊ: बहुजन समाज पार्टी (BSP) प्रमुख मायावती (Mayawati) का आज 64वां जन्मदिन है. अपने जन्मदिन के मौके पर बीएसपी प्रमुख ने लखनऊ में प्रेस कॉन्फ्रेंस की. मायावती ने आज नए साल की बधाई देते हुए कहा कि मेरे जन्मदिन की लोग जनकल्याणकारी दिवस के रूप में मनाते हैं. मायावती ने कहा, 'आज देश की 130 करोड़ जनता के सामने राजनीतिक और सामाजिक तनावपूर्ण स्थिति है, अर्थव्यवस्था खराब है, ये सब केंद्र सरकार की गलत नीतियों की वजह से है.इससे पहले यही स्तिथि कांग्रेस सरकार में भी थी. बीजेपी भी कांग्रेस के रास्ते पर चल रही है. अपने व्यक्तिगत स्वार्थ के लिए बीजेपी भी सत्ता का इस्तेमाल कर रहीं है.'

बीएसपी प्रमुख ने कहा, 'हर धर्म जाति और वर्ग परेशान है. केंद्र की गलत नीतियों की वहज से शांति-व्यवस्था खराब है. देश नेगेटिव वजहों से सुर्खियों में है. बीजेपी की इन्ही कमियों के फायदा उठाने में कांग्रेस एंड कंपनी लगी हुई है. कांग्रेस और बीजेपी को एक ही थाली के चट्टे-बट्टे मानती है. इसीलिए बीएसपी कभी भी केंद्र की इन सरकारों में इनके अनुरोध के बावजूद साथ नहीं रही है.

कांग्रेस को बीजेपी आलोचना का नैतिक अधिकार नहीं
मायावती ने कहा, 'कांग्रेस को बीजेपी की आलोचना करने का कोई नैतिक आधार नहीं है क्योंकि सत्ता में ये भी वही करते थे जो आज बीजेपी कर रही है.बीजेपी राज्यों से विदा हो रही है, अगर बीजेपी कांग्रेस की तरह करेगी तो देश की सत्ता से भी बाहर हो जाएगी...

यह भी पढ़ें- स्वामी प्रसाद मौर्य का मायावती पर तंज, कहा- पैसे की राजनीति छोड़ बाबा साहब के रास्ते पर चलिए

....बीजेपी की केंद्र और राज्य की सरकार ग़रीबो के खिलाफ काम कर रही है. CAA, NPR और NRC को छोड़कर देश हित के कामो में बीजेपी को ध्यान देना चाहिये.ओबीसी के लिए सरकारी नौकरियों में नाम मात्र का आरक्षण बचा है. इस बार बीएसपी के लोग सर्व समाज में परेशान लोगों की ज्यादा से ज्यादा मदद करें.'

बीएसपी नागरिकता कानून के खिलाफ
मायावती ने कहा, 'बीएसपी का CAA को लेकर बड़ा क्लियर स्टैंड है. बीएसपी इसका विरोध करती है. ये विभाजनकारी है, हमने राज्यसभा और लोकसभा दोनों जगह इसका विरोध किया था. ये धर्म के लोगों के खिलाफ भी है.'

बीजेपी में क्रिमिनल एलिमेंट्स हैं
मायावती ने कहा, 'मैं कमिशनरी सिस्टम के खिलाफ नहीं हूं, लेकिन यूपी सरकार की अपराधियों के खिलाफ कार्य करने की इच्छाशक्ति नज़र नहीं आती है. नई व्यवस्था से कानून व्यवस्था ठीक हो जाए ऐसा नहीं लगता. यूपी में कानून व्यवस्था बेहद खराब है. बीजेपी में क्रिमिनल एलिमेंट्स है. मैने अपने विधायकों, मंत्रियों और सांसदों के खिलाफ भी कार्यवाई की है.'

कांग्रेस को करारा जवाब
बीएसपी प्रमुख ने कहा, 'हमारी पार्टी कभी झूठ के आधार पर कोई काम नही करती.  कांग्रेस ने कहा था कि CAA पर कांग्रेस के अलावा कोई आवाज़ नही उठा रहा है लेकिन जब केंद्र सरकार ने इसे पास किया था तब मैंने इसका जोरदार विरोध किया था. इसके खिलाफ वोट भी बीएसपी ने किया था. नोट बंदी और EVM को लेकर भी बीएसपी ने सबसे पहले आवाज़ उठाई थी. कांग्रेस को अपनी झूठ की राजनीति बंद करनी चहिए. बीएसपी कभी भी बिना इजाजत धरना प्रदर्शन और उसमें हिंसा को सपोर्ट नही करती. बीएसपी शांति पूर्ण तरीके से अपना विरोध दर्ज कराती है.'