IAF की कार्रवाई पर बोलीं मायावती, 'काश पहले ही सेना को फ्री हैंड कर देती मोदी सरकार'

मायावती ने कहा कि अगर यह फैसला मोदी सरकार द्वारा पहले ले लिया गया होता तो पठानकोट, ऊरी व पुलवामा जैसी अति-दुःखद व अति-चिन्तित करने वाली घटनायें नहीं होती और न ही इतने जवान शहीद होते. 

IAF की कार्रवाई पर बोलीं मायावती, 'काश पहले ही सेना को फ्री हैंड कर देती मोदी सरकार'
मायावती की फाइल फोटो.

नई दिल्ली: बसपा प्रमुख मायावती ने पाकिस्तान के भीतर आतंकी शिविरों पर भारतीय वायुसेना की कार्रवाई की तारीफ करते हुए मंगलवार (26 फरवरी) को कहा कि अगर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सेना को पहले ही खुली छूट दे दिए होते तो पठानकोट, उरी और पुलवामा जैसी आतंकी घटनाएं नहीं होंती तथा हमारे इतने जवानों की शहादत नहीं होती.

मायावती ने ट्वीट कर कहा कि जैश आतंकियों आदि के खिलाफ पीओके में घुसकर भारतीय वायुसेना के बहादुर जांबाज़ों की साहसिक कार्रवाई को सलाम व सम्मान. काश हमारी सेना को फ्री हैंड भाजपा की सरकार पहले दे देती तो बेहतर होता.  उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने पुलवामा के जवानों की शहादत के बदले में कार्रवाई करने के लिए अब जो फ्री हैंड सेना को दिया है अगर यह फैसला मोदी सरकार द्वारा पहले ले लिया गया होता तो पठानकोट, ऊरी व पुलवामा जैसी अति-दुःखद व अति-चिन्तित करने वाली घटनायें नहीं होती और न ही इतने जवान शहीद होते. 

वहीं, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि अपनी वायुसेना और सशस्त्र बलों को सलाम करता हूं. बहुत बधाई. 

 

गौरतलब है कि भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों ने मंगलवार को तड़के नियंत्रण रेखा के दूसरी ओर पाकिस्तानी हिस्से में कई आतंकी शिविरों पर बमबारी की. सरकार से जुड़े सूत्रों ने यह जानकारी देते हुए बताया कि यह कार्रवाई जम्मू कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को आतंकी गुट जैश ए मोहम्मद द्वारा किए गए आत्मघाती हमले के ठीक 12 दिन बाद की गई है. पुलवामा हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे.