close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बदायूं कांड में ‘गैरजिम्मदाराना रिपोर्टिंग’ करने वाले माफी मांगें : आजम

बदायूं कांड में सीबीआई के इस खुलासे के बाद कि दोनों बहनों ने आत्महत्या की थी, सूबे के संसदीय कार्यमंत्री मोहम्मद आजम खां ने मीडिया को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि मीडिया को अपनी हदें तय करनी चाहिए। उन्होंने इस मामले में मीडिया द्वारा गैर जिम्मेदाराना रिपोर्टिंग का आरोप लगाते हुए कहा कि इसके लिए उसे माफी मांगनी चाहिए।

बदायूं कांड में ‘गैरजिम्मदाराना रिपोर्टिंग’ करने वाले माफी मांगें : आजम

लखनऊ : बदायूं कांड में सीबीआई के इस खुलासे के बाद कि दोनों बहनों ने आत्महत्या की थी, सूबे के संसदीय कार्यमंत्री मोहम्मद आजम खां ने मीडिया को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि मीडिया को अपनी हदें तय करनी चाहिए। उन्होंने इस मामले में मीडिया द्वारा गैर जिम्मेदाराना रिपोर्टिंग का आरोप लगाते हुए कहा कि इसके लिए उसे माफी मांगनी चाहिए।

खां ने आज यहां जारी एक बयान में कहा, 'इसके बाद अब यह जरूरी हो गया है कि मीडिया स्वयं अपनी हदें तय करे और लोकतंत्र के लिए स्वयं को एक चुनौती के रूप में न उभरने दे। साथ ही गैर जिम्मेदाराना रिपोर्टिंग के लिए बिना शर्त क्षमायाचना करे।’ उन्होंने कहा, 'मीडिया को गैर जिम्मेदाराना रिपोर्टिंग के लिए क्षमा याचना करनी चाहिए।’

उन्होंने मीडिया को निशाने पर लेते हुए कहा, 'बदायूं कांड में मीडिया विशेष रूप से इलेक्ट्रानिक मीडिया ने समाजवादी सरकार को जितना बदनाम किया, वह स्वयं में एक इतिहास है। मीडिया की इस गैर जिम्मेदाराना भूमिका से लोकतंत्र में यकीन रखने वाले लोगों को आघात पहुंचा था।’

गौरतलब है कि इस साल 27 मई को बदायूं जिले में पेड़ से लटकी पायी गयी दो चचेरी बहनों की मौत की जांच कर रही सीबीआई इस नतीजे पर पहुंची है कि उन दोनों ने आत्महत्या की थी। एजेंसी के अनुसार उनके साथ सामूहिक बलात्कार होने और उनकी हत्या किए जाने के आरोपों के संबंध में कोई सबूत नहीं मिला है।