अयोध्या मामला: 100 दिन में आ सकता है फैसला, 17 नवंबर होगी ऐतिहासिक तारीख

दरअसल, 17 नवंबर, 2019  को संवैधानिक बेंच के प्रमुख यानि सीजेआई रिटायर हो रहे हैं. इसलिए ये कयास लगाए जा रहे हैं कि  उनके रिटायरमेंट से पहले इस पर फैसला आ सकता है. 

अयोध्या मामला: 100 दिन में आ सकता है फैसला, 17 नवंबर होगी ऐतिहासिक तारीख

नई दिल्‍ली : अयोध्‍या मामले पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को बड़ा फैसला लिया है. आगामी 6 आगस्त से अब हर रोज अयोध्या मामले पर सुनवाई होगी. शुक्रवार (02 अगस्त) को मामले पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने साफ किया कि मध्‍यस्‍थता का कोई नतीजा नहीं निकला है. ये कयाय लगाए जा रहे हैं कि अगले 100 दिनों में अयोध्या मामले का फैसला आ सकता है.

17  नवंबर, 2019 को रिटायर हो रहे हैं CJI
दरअसल, 17 नवंबर, 2019  को संवैधानिक बेंच के प्रमुख यानि सीजेआई रिटायर हो रहे हैं. इसलिए ये कयास लगाए जा रहे हैं कि  उनके रिटायरमेंट से पहले इस बड़े मसले पर कोई फैसला आ सकता है. 

 6 अगस्‍त से रोजाना होगी सुनवाई
शुक्रवार को अयोध्‍या मामले पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने ने तय किया है कि मामले में 6 अगस्‍त से रोजाना सुनवाई होगी. यह सुनवाई खुली अदालत में की जाएगी. सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को सुनवाई करते हुए अयोध्या राम जन्मभूमि विवाद मामले में गठित मध्यस्थता कमेटी को भंग कर दिया है.

लाइव टीवी देखें

मध्यस्थता  फेल
जानकारी के मुताबिक, सोमवार और शुक्रवार को छोड़कर मंगलवार, बुधवार और गुरुवार को इस मामले में लगातार सुनवाई होगी. आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने इसी साल 8 मार्च को SC के पूर्व जज जस्टिस एफएम कलीफुल्ला की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय समिति गठित की थी. इस समिति को मामले का सर्वमान्य समाधान निकालना था. मध्यस्थता समिति में आध्यात्मिक गुरु श्रीश्री रविशंकर और वरिष्ठ वकील श्रीराम पांचू भी शामिल थे. मध्यस्थता पैनल ने संबंधित पक्षों से बंद कमरे में बातचीत की गई थी.