मदरसों में दी जाती है आतंकवाद की शिक्षा, लालच देकर कराया जाता है धर्म परिवर्तन-संगीत सोम
X

मदरसों में दी जाती है आतंकवाद की शिक्षा, लालच देकर कराया जाता है धर्म परिवर्तन-संगीत सोम

संगीत सोम ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि वसीम रिज़वी द्वारा दिए गये खुद के अंतिम संस्कार वाले बयान पर कहा की हिन्दू धर्म दुनिया में सबसे श्रेष्ठ धर्म है और वसीम जी ने अगर ये कहा है तो उनका बहुत-बहुत स्वागत है.

 

मदरसों में दी जाती है आतंकवाद की शिक्षा, लालच देकर कराया जाता है धर्म परिवर्तन-संगीत सोम

नीरज त्यागी/मुजफ्फरनगर: बीजेपी नेता और मेरठ की सरधना विधानसभा सीट से विधायक संगीत सोम (Sangeet Som) मंगलवार को चुनाव से सम्बंधित एक मामले को लेकर मुज़फ्फरनगर की एमपी एमएलए स्पेशल कोर्ट (Mp mla Special Court) में पेश हुए. लेकिन इस मामले में बनाए गए सभी आरोपियों के कोर्ट में पेश ना होने के चलते आरोप तय नहीं हो सके. अगली सुनवाई के लिए 26 नवंबर की तारीख तय की गई है. उस दिन ही संगीत सोम के खिलाफ कोर्ट आरोप तय होंगे.

यूपी में तेज हुई सत्ता की जंग, योगी, राजनाथ, अखिलेश समेत कई दिग्गजों के दौरे, जानें कार्यक्रमों की पूरी डिटेल

इन मामलों में हुआ था मुकदमा दर्ज
दरअसल साल 2009 में लोकसभा चुनाव के दौरान संगीत सोम सहित कई लोगों पर नगर के सिविल लाइन थाने में धारा 114 और 288 में मुक़दमा दर्ज हुआ था. उसी मामले को लेकर आज बीजेपी विधायक संगीत सोम मुज़फ्फरनगर की एमपी एमएलए कोर्ट में पेश हुए.

बहुत से मदरसों में आतंकवाद की शिक्षा दी जाती है-संगीत सोम
पेशी के दौरान संगीत सोम ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि वसीम रिज़वी द्वारा दिए गये खुद के अंतिम संस्कार वाले बयान पर कहा की हिन्दू धर्म दुनिया में सबसे श्रेष्ठ धर्म है और वसीम जी ने अगर ये कहा है तो उनका बहुत-बहुत स्वागत है. इतना ही नहीं संगीत सोम ने कहा कि बहुत से मदरसों में आतंकवाद की शिक्षा दी जाती है. 

लालच देकर धर्म परिवर्तन
सरधना से भाजपा विधायक संगीत सोम ने कहा दुनिया में सबसे बड़ा सनातन धर्म है. बीजेपी विधायक ने कहा कि पैसों का लालच देकर बहला-फुसला कर धर्म परिवर्तन कराया जाता है. जो लोग ऐसा कराते हैं उनके खिलाफ कार्रवाई भी हो रही है. लेकिन अब लोग धर्म में वापसी कर रहे हैं और ये ही हमारी जीत है.

ये था मामला
आपको बता दें की 2009 के लोकसभा चुनाव में संगीत सोम ने मुज़फ्फरनगर से सपा के टिकट पर चुनाव लड़ा था. इस चुनाव में उन्हें हार का सामना करना पड़ा था. पुलिस के अनुसार संगीत सोम और उनके समर्थकों ने 17 मार्च 2009 को थाना सिविल लाइन इलाके के मालवीय चौक पर गाड़ियां खड़ी करके रास्ता जाम कर दिया था. तत्कालीन डटीएसआई हरमीत सिंह ने थाना सिविल लाइन में केस दर्ज कराते हुए आरोप लगाया था कि संगीत सोम ने अन्य लोगों के साथ मिलकर निषेधाज्ञा का उल्लंघन किया.

Kasganj Altaf Case: अल्ताफ के पिता चांद मियां ने लिखी सीएम योगी को चिट्ठी, मांगें न मानने पर दी भूख हड़ताल की धमकी

Dev Deepawali 2021: इस दिन धरती पर देवता मनाएंगे जश्न, जानें 'देव दीपावली' का महत्व,शुभ मुहूर्त और पूजा-विधि

WATCH LIVE TV

 

 

Trending news