तीन दिन से लापता नाबालिग छात्र का शव डैम में मिला, रस्सी से बंधे थे हाथ-पैर, मुंह पर चिपका था टेप

परिजनों ने छात्र की हत्या के बाद उसका शव बांध में फेंके जाने की आशंका जताई है. सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा और मामले में पड़ताल शुरू की है.

तीन दिन से लापता नाबालिग छात्र का शव डैम में मिला, रस्सी से बंधे थे हाथ-पैर, मुंह पर चिपका था टेप
इनसेट में मृतक नाबालिग छात्र पुष्पेंद्र पटेल.

ललितपुर: उत्तर प्रदेश के ललितपुर जिले में तीन दिनों से लापता एक 16 वर्षीय छात्र (पुष्पेंद्र पटेल) का शव सोमवार सुबह गोविंद सागर बांध में उतराता हुआ मिला. नाबालिग युवक के हाथ-पैर रस्सी से बंधे थे, जबकि उसका मुंह टेप से चिपकाया गया था. परिजनों ने छात्र की हत्या के बाद उसका शव बांध में फेंके जाने की आशंका जताई है. सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा और मामले में पड़ताल शुरू की है.

पानी की बूंदों पर बवाल: एक शख्स की गई जान, परिवार ने शव रखकर लगाया जाम 

13 नवंबर की शाम से था लापता
दरअसल, कोतवाली सदर क्षेत्र के सतरवांस गांव के रहने वाले दयाराम पटेल परिवार के साथ पटेल नगर रहते हैं. उनका बेटा पुष्पेंद्र पटेल (16 साल) 13 नवंबर की शाम 7 बजे से घर से निकला था. जब वह घर लौट कर नहीं आया तो परिजनों ने गुमशुदगी की सूचना कोतवाली पुलिस को दी. सोमवार को लोगों ने नगर क्षेत्र में स्थित गोविंद सागर बांध में साइफन के पास पानी में उतराता एक शव देखा और पुलिस को इसकी सूचना दी. 

UP में 'चाय पर तगादा': अगर हैं बिजली-बिल के बकाएदार, तो चाय पिलाने को रहें तैयार 

झांसी में रहकर पढ़ाई करता था
मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पानी से बाहर निकलवाया और शिनाख्त की तो पता चला कि यह तीन दिन पहले गुमशुदा छात्र पुष्पेंद्र पटेल का शव है. मृतक छात्र के हाथ-पैर रस्सी से बंधे थे, मुंह टेप चिपका था. मृतक के मामा ने बताया कि उनका भांजा पुष्पेंद्र झांसी में रहता था. वह 9वीं कक्षा में पढ़ता था और 12 नवंबर को ही छुट्टियों में घर आया था. उसकी हत्या किन लोगों ने क्यों की? यह नहीं पता है. ललितपुर के पुलिस अधीक्षक कैप्टन एमएम बेग ने घटना को दुःखद बताया और कहा कि इस हत्या के खुलासे के लिए टीमें गठित कर जांच शुरू कर दी गई है.

WATCH LIVE TV