यूपी ट्रैफिक पुलिस की बड़ी लापरवाही, बस ड्राइवर का कटा बिना हेलमेट वाला चालान

यहां ट्रैफिक पुलिस ने सरकारी बस का बिना हेलमेट वाला चालान काट दिया. अब इसकी चर्चा चारों तरफ हो रही है. लोगों का कहना है कि क्या  बस चालकों को भी हेलमेट पहनने की जरूरत है.

यूपी ट्रैफिक पुलिस की बड़ी लापरवाही, बस ड्राइवर का कटा बिना हेलमेट वाला चालान
फाइल फोटो.

नई दिल्ली: इस समय पूरे देश में ट्रैफिक नियमों को लेकर एक ऐसा कानून बना है जो आए दिन ट्रैफिक चालान को लेकर दिलचस्प आंकड़े पेश कर रहा है. ताजा मामला उत्तर प्रदेश के महराजगंज जनपद का है. यहां की ट्रैफिक पुलिस ने बीते 26 अगस्त को एक अनोखा चालान काटा है वो भी सरकारी बस का चालान. इस घटना के बाद ट्रैफिक पुलिस के काम करने के तरीके पर सवाल उठने लगे हैं.

यहां ट्रैफिक पुलिस ने सरकारी बस का बिना हेलमेट वाला चालान काट दिया. अब इसकी चर्चा चारों तरफ हो रही है. लोगों का कहना है कि क्या  बस चालकों को भी हेलमेट पहनने की जरूरत है. चालान बुक पर लिखा गया है कि इस बस चालक का 500 रुपये का चालान काटा गया है और इसकी वजह है कि वह हेलमेट नहीं पहना था. इतना ही नहीं इस चालान का नोटिस यूपीएसआरटीसी (UPSRTC) के जनरल मैनेजर और रिजनल मैनेजर गोरखपुर को भेजा गया है. 

जिस बस की चालान काटी गई है वह निचलौल डिपो की बताई जा रही है. बस का नंबर UP 53 DT 5460 है. चालान का स्थान सिंदूरिया रोड, बिस्मिल नगर महराजगंज का है. चौंकाने वाले चालान ने  महराजगंज के सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक को कुछ समय सोचने पर मजबूर कर दिया था.

इस पूरे मामले को लेकर UPSRTC निचलौल डिपो के ARM भुवनेश्वर कुमार ने कहा कि यह उत्तर प्रदेश ट्रैफिक पुलिस की लापरवाही का नतीजा है. यह उनकी दबंगई भी है कि जब जिसे चाहा चालान काट दिया गया. हालांकि, एडिशनल एसपी का कहना है सीट बेल्ट को लेकर चालान किया गया था, लेकिन चालान चिट में हेलमेट दर्शाया गया है जो मानवीय भूल का मामला है. साथ में उन्होंने यह भी कहा कि आगे से ऐसा न हो हम यह सुनिश्चित करने में लगे हुए हैं.