close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मुन्‍ना बजरंगी हत्‍याकांड : सुनील राठी पर आरोप तय, 10 जनवरी को दर्ज होगी गवाही

बागपत जेल में हुई मुन्‍ना बजरंगी की हत्‍या का आरोपी है सुनील राठी.

मुन्‍ना बजरंगी हत्‍याकांड : सुनील राठी पर आरोप तय, 10 जनवरी को दर्ज होगी गवाही
सुनील राठी पर है मुन्‍ना बजरंगी की हत्‍या का आरोप. फाइल फोटो

लखनऊ : बागपत जेल में हुई पूर्वांचल के माफिया मुन्‍ना बजरंगी की हत्‍या मामले में आरोपी सुनील राठी को गुरुवार को बागपत कोर्ट में पेश किया गया. उसे कड़ी सुरक्षा के बीच दिल्‍ली के तिहाड़ जेल से बागपत ले जाया गया. कोर्ट ने सुनवाई के दौरान सुनील राठी पर हत्‍या के आरोप तय कर दिए हैं. अब 10 जनवरी, 2019 को मामले में गवाहों के बयान दर्ज किए जाएंगे. जिला एवं सत्र न्यायाधीश परमानन्द शुक्ला की कोर्ट में उसकी पेशी हुई. सुनील राठी की पेशी के दौरान जिला न्यायालय छावनी में तब्दील रहा. पेशी के बाद राठी को वापस तिहाड़ जेल ले जाया गया.


बागपत जेल में हुई थी मुन्‍ना बजरंगी की हत्‍या. फाइल फोटो 

बता दें कि 9 जुलाई को बागपत जिला कारागार में पूर्वांचल डॉन मुन्ना बजरंगी की हत्या हो गई थी. मुन्ना बजरंगी की हत्या का आरोप बागपत जेल में बंद पश्चिम के कुख्यात सुनील राठी पर लगा था. इसी मामले में गुरुवार को सुनील राठी की बागपत जिला न्यायलय में पेशी हुई. हालांकि इस दौरान मुन्ना बजरंगी हत्याकांड को लेकर सुनील राठी की मीडिया से कोई बातचीत भी नहीं हो सकी.

मुन्ना बजरंगी को पुलिस 8 जुलाई को झांसी से बागपत जिला जेल लेकर आई थी. 9 जुलाई को उसे बसपा के पूर्व विधायक लोकेश दीक्षित से रंगदारी मांगने के मामले में सीजेएम कोर्ट में पेश करना था. 9 जुलाई की सुबह ही करीब सवा छह बजे जिला कारागार में गोलियों से भूनकर उसकी हत्या कर दी गई थी. पुलिस ने सुनील राठी की निशानदेही पर जेल के सेफ्टी टैंक से एक पिस्टल, दो मैग्जीन और 22 कारतूस भी बरामद किए थे. साथ ही खेकड़ा थाने में उसके खिलाफ हत्या और आर्म्स एक्ट के तहत मुकद्दमा भी दर्ज हुआ था.