close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पहले हाथों में बंधवाई राखी, माथे पर लगवाया तिलक, कुछ देर बाद बहन के मुंह में कपड़ा बांध रेत दिया गला

कविता को क्या मालूम था की जिन हाथो में उसने राखी बांधकर भाई से अपनी रक्षा करने का वचन लिया था उन्हों हाथो से भाई उसकी गर्दन काटकर सांसे रोक देगा. 

पहले हाथों में बंधवाई राखी, माथे पर लगवाया तिलक, कुछ देर बाद बहन के मुंह में कपड़ा बांध रेत दिया गला
.(प्रतीकात्मक तस्वीर)

मुज़फ्फरनगर: मुज़फ्फरनगर में रक्षाबंधन पर्व पर जिस बहन ने अपने भाई की कलाई पर राखी बांधकर माथे पर तिलक लगाया था उसी भाई ने शक के चलते राखी बंधे हाथों से अपनी बहन की गला रेत कर दिनदहाड़े हत्या कर इलाके में सनसनी फैला दी. घटना की सुचना पर पुलिस ने मृतका की लाश को कब्जे में कर क़ातिल भाई को गिरफ्तार कर लिया है. दरअसल मामला उत्तर प्रदेश के जनपद मुज़फ्फरनगर थाना मन्सूरपुर क्षेत्र के गांव जदोड़ा का है जंहा शुक्रवार दोपहर 22 वर्षीय एक भाई आशीष ने उस समय अपनी 20 वर्षीय बहन कविता की धारधार हथियार से गर्दन रेत कर हत्या कर दी जब परिवार के अन्य सदस्य घर से बाहर गए हुए थे.

मृतका की माँ की माने तो दोनों भाई बहन के बीच कोई झगड़ा नहीं था गुरुवार को कविता ने आशीष के हाथों में प्यार से राखी बांधकर माथे पर तिलक लगाया था और दोनों बहुत खुश थे. सूत्रों की माने तो कविता बी.ए की छात्रा थी और उसके भाई को अपनी बहन का मोबाइल पर बात करना पसंद नहीं था अक्सर दोनों भाई बहन के बीच मोबाइल को लेकर कहासुनी हो जाया करती थी.

रक्षाबंधन के दिन सब कुछ सामान्य जैसा ही था कविता और उसकी छोटी बहन पारुल ने अपने भाई आशीष की कलाई पर राखी बांधकर और माथे पर तिलक लगाकर भाई बहन का त्यौहार मनाया था. लेकिन कविता को क्या मालूम था की जिन हाथो में उसने राखी बांधकर भाई से अपनी रक्षा करने का वचन लिया था उन्हों हाथो से भाई उसकी गर्दन काटकर सांसे रोक देगा.

कलयुगी भाई ने बहन को मौत के घाट उतारने की ऐसी साजिश रची की देखने और सुनने वालो को भी इस खौफनाक घटना पर यकीन नहीं हुआ. आशीष ने बहन को घर पर अकेला देख पहले उसके हाथ पैर बांध दिए जब बहन ने शोर मचाया तो उसके मुंह पर भी कपडा बांध दिया. और फिर बहन के ऊपर बैठ तेज़ धारदार हथियार से बहन की गर्दन काट कर घटना स्थल से भाग खड़ा हुआ.

जब घर के बाकी सदस्य घर पहुंचे तो कमरे में खून से लथपथ कविता की लाश पड़ी थी. दिन दहाड़े हुई इस घटना के बाद पुलिस भी मोके पर पहुंची और लाश को कब्जे में कर पोस्ट मॉर्टम के लिए भेज मामले की जाँच में जुट गयी कुछ देर बाद ही पुलिस ने आरोपी भाई को भी गिरफ्तार कर लिया. पुलिस के मुताबिक क़ातिल भाई को अपनी बहन के चाल चलन पर शक था इसी लिए उसने उसकी हत्या की योजना बनाई.