close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

उत्तराखंड के लोग हो जाएं सावधान...अगले 24 घंटों में फिर हो सकती है भारी बारिश

मौसम विभाग के मुताबिक, देहरादून, पौड़ी, टिहरी, चमोली, नैनीताल, बागेश्वर, चंपावत और पिथौरागढ़ में अगले 24 घंटों में भारी बारिश का अनुमान है.

उत्तराखंड के लोग हो जाएं सावधान...अगले 24 घंटों में फिर हो सकती है भारी बारिश
पिछले कई दिनों से पहाड़ों में रुक-रुक कर हो रही बारिश हो रही है. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली/देहरादून: पहाड़ों में हो रही लगातार बारिश से पूरा जनजीवन अस्त-व्यस्त हो रखा है और एक बार फिर उत्तराखंड के कई जिलों में अगले 24 घंटे के लिए भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है. पिछले कई दिनों से पहाड़ों में रुक-रुक कर हो रही बारिश से पहले ही स्थानीय लोगों को मुसीबत का सामना करना पड़ रहा है और एक बार फिर यहां पर मौसम विभाग ने राज्य के कई जिलों में अलर्ट जारी किया है. मौसम विभाग के मुताबिक, देहरादून, पौड़ी, टिहरी, चमोली, नैनीताल, बागेश्वर, चंपावत और पिथौरागढ़ में अगले 24 घंटों में भारी बारिश का अनुमान है. 

ये भी पढ़ें: देहरादून में बारिश ने मचाया कहर, सात लोगों की मौत, जनजीवन ठप्प

बारिश ने उत्तराखंड के पहाड़ों से लेकर मैदानों तक परेशानी के हालात पैदा कर दिए हैं, जहां पहाड़ों पर बारिश ने भूस्खलन की घटनाओं को पुनः जीवित कर तमाम सड़कों को बाधित कर दिया है तो वहीं राजधानी देहरादून में अमूमन सभी सूखी पड़ी नदियों ने उफान लेना शुरू कर दिया. भारी बारिश की वजह से देहरादून में 7 लोगों की मौत हो गई. 

ये भी पढ़ें: सहारनपुर: बारिश ने बढ़ाई मुसीबत, दिल्ली-देहरादून नेशनल हाईवे पर टूटकर गिरा पहाड़, लगा जाम

सिर्फ राजधानी देहरादून ही नहीं बल्कि प्रदेश के अधिकतर पहाड़ी जिले बारिश के इस प्रकोप को झेल रहे हैं. केदारनाथ के लिनचोली में पैदल मार्ग के टूट जाने की वजह से एसडीआरएफ ने तमाम यात्रिओं को जान जोखिम में डालकर रास्ता पार करवाया. खराब मौसम के चलते मानसरोवर यात्रा के सातवें दल के सदस्य पिथौरागढ़ से आगे नहीं बढ़ पा रहे हैं. उन्हें गुंजी ले जाने वाला हेलीकॉप्टर उड़ान नहीं भर पा रहा है. 

ये भी पढ़ें: कुमाऊं में आफत की बारिश, पिथौरागढ़ में रामगंगा पुल बहा, खतरा बढ़ा

कुमाऊं में भी बारिश ने अपना रौद्र रूप दिखाया हुआ है. पिथौरागढ़ और बागेश्वर जिले में भारी बारिश लगातार तबाही मची हुई है. पिथौरागढ़ में भी भारी बारिश से जन-जीवन पूरी तरीके से अस्त-व्यस्त हो गया है. आसमान से बरसने वाली इस आफत से जिले की नाचनी में राम गंगा नदी अपने पूरे उफान पर आ गई है. नदी के बढ़ते जलस्तर से रामगंगा पुल बह गया है. वहीं, बागेश्वर जिले के कपकोट ब्लाक की सीमा से लगे तल्ला जोहार में बारिश ने सड़कों को मलबे से पाट दिया. नाचनी के बजेला गांव के पास एक पैदल पुल बह गया, जिससे लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.