पूरे देश में दोहराया जा रहा विकास का पूर्वोत्तर मॉडल : जितेंद्र सिंह

डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा कि अपनी उद्यमशीलता की योजनाओं को आगे बढ़ाने के लिए पूर्वोत्तर की पद्धति के उपयोग पर गंभीरतापूर्वक विचार किया.

पूरे देश में दोहराया जा रहा विकास का पूर्वोत्तर मॉडल : जितेंद्र सिंह
राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ. जितेंद्र सिंह की फाइल फोटो.

वाराणसी: केंद्रीय पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास (डोनर) राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ. जितेंद्र सिंह (Dr. Jitendra Singh) ने कहा कि विकास एवं अवसर के पूर्वोत्तर मॉडल (Northeast Model) को देशभर में दोहराया जा रहा है और ऐसा इसलिए संभव हुआ है, क्योंकि देश के विभिन्न हिस्सों में लोगों, विशेष रूप से युवाओं को उन अवसरों से लगातार अवगत कराया जा रहा है जो पूर्वोत्तर क्षेत्र उनके लिए प्रस्तुत कर सकता है.

वाराणसी में बीएचयू परिसर में चार दिवसीय 'गंतव्य पूर्वोत्तर' के दूसरे दिन विभिन्न मंडपों का अवलोकन करते हुए एवं प्रतिभागियों एवं आगंतुकों, जिनमें अधिकांश युवा थे, से परस्पर बातचीत करते हुए डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा कि इसके बावजूद कि विश्वविद्यालय के विभिन्न विभागों में परीक्षाएं चल रही हैं, इस समारोह को बेहद उत्साजनक प्रतिक्रिया प्राप्त हुई है. उन्होंने कहा कि बड़ी संख्या में छात्र मंडपों का अवलोकन कर रहे हैं और पूर्वोत्तर के छात्रों के साथ बातचीत कर रहे हैं.

डॉ. सिंह ने बांस का विशेष रूप से उल्लेख करते हुए कहा कि संभवत: ऐसा पहली बार हुआ होगा कि बुद्ध की बांस की प्रतिमा और कामख्या के पवित्र मंदिर के बांस के मॉडल सहित बांस के उपयोग के विभिन्न पहलुओं को इतने व्यापक रूप से प्रदर्शित किया जा रहा है.

उन्होंने कहा कि इसका सकारात्मक परिणाम यह रहा कि बड़ी संख्या में युवा एवं मीडियाकर्मी यह समझने के लिए इस स्थान का भ्रमण कर रहे हैं कि आजीविका के स्रोतों में मदद करने एवं जीवन की सुगमता में इससे कैसे मदद मिल सकती है. उन्होंने अपनी उद्यमशीलता की योजनाओं को आगे बढ़ाने के लिए पूर्वोत्तर की पद्धति के उपयोग पर गंभीरतापूर्वक विचार किया.

(आईएएनएस)