फरार IPS मणिलाल पाटीदार की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, एक और केस होगा दर्ज

बीते 15 नवंबर को फरार चल रहे IPS मणिलाल पाटीदार (Manilal Patidar) समेत तीन पुलिस कर्मियों को लखनऊ की स्पेशल कोर्ट ने भगोड़ा घोषित कर दिया है.

फरार IPS मणिलाल पाटीदार की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, एक और केस  होगा दर्ज

लखनऊ: यूपी के महोबा (Mahoba case) में व्यापारी की संदिग्ध मौत के मामले में फरार चल रहे IPS मणिलाल पाटीदार की मुश्किलें और बढ़ने वाली हैं. मणिलाल पाटीदार के खिलाफ अब एक और मुदमा दर्ज  हो सकता है. अवैध वसूली के मामले में केस दर्ज करने के लिए अभियोजन अधिकारियों से परामर्श लिया जा रहा है. पाटीदार के साथ उसके करीबी सिपाही अरुण कुमार यादव पर भी केस दर्ज करने की तैयारी की जा रही है. बता दें, निलंबित होने के बाद से IPS मणिलाल पाटीदार फरार चल रहा है. दोनों की संपत्ति कुर्क करने की कार्रवाई भी होने वाली है. 

ये भी पढ़ें: धर्म परिवर्तन के लिए जबरदस्ती करने के आरोप में UP में पहला केस दर्ज​

घोषित किया जा चुका है भगोड़ा 
बीते 15 नवंबर को फरार चल रहे IPS मणिलाल पाटीदार (Manilal Patidar) समेत तीन पुलिस कर्मियों को लखनऊ की स्पेशल कोर्ट ने भगोड़ा घोषित कर दिया है. महोबा जिले के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेंद्र कुमार गौतम के मुताबिक जिले के एसपी रहे IPS मणिलाल पाटीदार, इंस्पेक्टर देवेंद्र शुक्ला और कांस्टेबल अरुण यादव महोबा के व्यापारी इंद्रकांत त्रिपाठी की संदिग्ध मौत के बाद से फरार चल रहे हैं. 

ये भी पढ़ें: UPPSC: PCS Mains Exam के लिए आवेदन शुरू, जानें अप्लाई करने की सारी डिटेल

व्यापारी से 6 लाख रुपये मांगने का आरोप 
इंद्रकांत की मौत के बाद उनके भाई ने आरोप लगाया कि पाटीदार ने त्रिपाठी से 6 लाख रुपये की रिश्वत की मांग की थी. मणिलाल ने धमकी दी कि यदि एक हफ्ते के अंदर रकम नहीं दी तो जान से मार दिया जाएगा या जेल भेज दिया जाएगा. इसके बाद पाटीदार को भ्रष्टाचार के आरोपों के कारण सेवा से निलंबित करके जांच का आदेश जारी कर दिया गया. उसके बाद से  IPS मणिलाल पाटीदार, इंस्पेक्टर देवेंद्र शुक्ला और कांस्टेबल अरुण यादव अब तक फरार चल रहे हैं. 

WATCH LIVE TV