बुलंदशहर: 'पानीपत' पर नहीं थम रही जंग, प्रदर्शनकारियों ने बंद कराया चलता शो

फिल्म में मराठाओं और अफगान शासक अहमद शाह अब्दाली के बीच 1761 में हुई पानीपत की तीसरी लड़ाई को पर्दे पर उतारा गया है.

बुलंदशहर: 'पानीपत' पर नहीं थम रही जंग, प्रदर्शनकारियों ने बंद कराया चलता शो
फिल्म में संजय दत्त, अर्जुन कपूर और कृति सेनन जैसे सितारे मौजूद है. अभी तक फ़िल्म 'पानीपत' ने बॉक्स ऑफ़िस पर ठीक-ठाक कमाई की है.

मृदुल शर्मा/बुलंदशहर: फिल्म 'पानीपत' द ग्रेट ब्रिटेयल' में कथित तौर पर 'इतिहास के गलत तथ्य' दिखाए जाने को लेकर लगातार प्रदर्शन हो रहे हैं. बड़े पर्दे पर आते ही फिल्म पानीपत का विरोध शुरू हो गया था. विरोध के स्वर राजस्थान से उठे थे, जो अब उत्तर प्रदेश में भी गूंज रहे हैं. बुलंदशहर के एमएमआर मॉल पर राष्ट्रीय जाट एकता मंच के कार्यकर्ताओं ने जोरदार प्रदर्शन किया. जाट एकता मंच के कार्यकर्ताओं ने फिल्म के शो को बंद कराने के लिए हंगामा किया. काफी विरोध के बाद फिल्म के शो को बंद किया गया. जाट एकता मंच ने इसे लेकर एक ज्ञापन भी सौंपा है.

क्यों हो रहा है फिल्म का विरोध
पानीपत मूवी में राजा सूरजमल के इतिहास को लेकर जाट समाज में गुस्सा है. दरअसल फिल्म में मराठाओं और अफगान शासक अहमद शाह अब्दाली के बीच 1761 में हुई पानीपत की तीसरी लड़ाई को पर्दे पर उतारा गया है. फिल्म में महाराज सूरजमल की के बारे में बताई गई कई बातें लोगों को पसंद नहीं आई और जाट संगठनों ने इसका विरोध करना शुरू कर दिया. फिल्म पानीपत में महाराजा सूरजमल के चरित्र को गलत तरीके से दिखाए जाने का आरोप लग रहा है. 

इसे लेकर राजस्थान से शुरू हुआ विरोध यूपी तक पहुंच गया है. इतिहासकार तर्क दे रहे हैं कि सूरजमल ने मराठा सेना के साथ आई महिलाओं और बच्चों को सुरक्षित स्थान ग्वालियर, डीग और कुम्हेर के किले में रखने का सुझाव दिया था. लेकिन, उनके सुझाव को नहीं माना गया. इस पर महाराजा सूरजमल अलग हो गए. लेकिन जाट संगठन इसे गलत करार दे रहे हैं.

फिल्म ने विरोध के बावजूद पकड़ी रफ्तार
फिल्म में संजय दत्त, अर्जुन कपूर और कृति सेनन जैसे सितारे मौजूद है. अभी तक फ़िल्म 'पानीपत' ने बॉक्स ऑफ़िस पर ठीक-ठाक कमाई की है. शुरूआत में फिल्म स्लो रही लेकिन धीरे-धीरे कमाई की रफ्तार बढ़ गई है. विरोध के बावजूद फिल्म ने ओपनिंग वीकेंड में बॉक्स ऑफ़िस पर अच्छा प्रदर्शन किया. 6 दिसंबर को रिलीज हुई फिल्म पानीपत का विरोध लगातार हो रहा है लेकिन, इसके बावजूद फिल्म दर्शकों को अपनी ओर खींच रही है.