मरीज ने कराया था पथरी का ऑपरेशन, दोबारा जांच कराई तो गायब हो गई 'किडनी'

 अस्पताल के प्रमुख अधीक्षक ने आरोपों से इंकार किया है. हालांकि, पीड़ित के आरोपों के आधार पर उन्होंने एक सीनियर सर्जन डॉक्टरों की कमेटी बनाकर पूरे मामले की जांच कराकर कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है.

मरीज ने कराया था पथरी का ऑपरेशन, दोबारा जांच कराई तो गायब हो गई 'किडनी'
हरिकेश ने मोती लाल नेहरू अस्पताल के सर्जन डॉ. पीएम गुप्ता से 17 अक्टूबर को किडनी में पत्थरी (स्टोन) का ऑपरेशन कराया था.

मोहम्मद गुफरान/प्रयागराज: प्रयागराज में सरकारी अस्पताल के डॉक्टर पर मरीज के पथरी का ऑपरेशन के दौरान किडनी निकाल लेने का सनसनीखेज मामला सामने आया है. ऑपरेशन के बाद मरीज की तबीयत खराब होने लगी तो, उसे मेडिकल कॉलेज रेफर किया गया. जहां डॉक्टरों ने दोबारा जांच कराया तो, रिपोर्ट में एक किडनी ना होने की खबर मिलते ही मरीज के परिजनों ने स्थानीय लोगों के साथ शाहगंज थाना स्थित सीओ दफ्तर का घेराव कर हंगामा किया. साथ ही आरोपी डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है. हालांकि, अस्पताल के अधीक्षक का कहना है कि अस्पताल के डॉक्टर पर लगे आरोपों की दूसरे सरकारी अस्पतालों के सीनियर डॉक्टरों की टीम गठित कर जांच कराई जाएगी और रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी.

यहां देखें वीडियो

 

दरअसल, खुल्दाबाद इलाके के रहने वाले हरिकेश ने मोती लाल नेहरू अस्पताल के सर्जन डॉ. पीएम गुप्ता से 17 अक्टूबर को किडनी में पत्थरी (स्टोन) का ऑपरेशन कराया था. 25 अक्टूबर को उसे अस्पताल से छुट्टी दे दी गई लेकिन, उसके पेट में हुए ऑपरेशन की जगह से ब्लड और मवाद लगातार निकल रहा था. इस बात की जानकारी जब पीड़ित हरिकेश ने डॉक्टर पीएम गुप्ता को दी तो, उसे स्वरूप रानी मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया. जहां मरीज की दोबारा जांच कराई गई तो, जांच में शरीर में एक किडनी ना होने की बात सामने आई. जिसके बाद मरीज के तीमारदारों ने डॉक्टर पर ऑपरेशन के दौरान एक किडनी निकाल लेने का आरोप लगा कर हंगामा किया. पीड़ित के परिजनों ने आरोपी डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है. 

वहीं, अस्पताल के प्रमुख अधीक्षक ने आरोपों से इंकार किया है. हालांकि, पीड़ित के आरोपों के आधार पर उन्होंने एक सीनियर सर्जन डॉक्टरों की कमेटी बनाकर पूरे मामले की जांच कराकर कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है. पूरे प्रकरण पर पुलिस का कहना है कि पीड़ित की तहरीर मिली है. अस्पताल के डॉक्टर पर ऑपरेशन के दौरान किडनी निकालने का आरोप लगाया गया है. पीड़ित की तहरीर के आधार पर डॉक्टर के विरुद्ध मामला दर्जकर सीएमओ को अवगत करा दिया गया है. पूरे प्रकरण पर डॉक्टरों की टीम जांच करेगी. जांच रिपोर्ट में जो भी सामने निकलकर आएगा, पुलिस उसके आधार पर कार्रवाई करेगी.