पीलीभीत: पेट्रोल पंप मालिक ने रची फर्जी लूट की साजिश, पुलिस ने किया गिरफ्तार

पुलिस जांच में पता चला कि पीड़ित ने जहां से पैसे मिलने की बात की थी, वहां के मालिक ने रुपये देने से इनकार किया था.

पीलीभीत: पेट्रोल पंप मालिक ने रची फर्जी लूट की साजिश, पुलिस ने किया गिरफ्तार
आरोपी राजन ने निगोही के रहने वाले अपने एक दोस्त से 10 लाख रुपये दो दिन के वायदे पर उधार लिए थे.

पीलीभीत: पीलीभीत में एक पेट्रोल पंप के मालिक ने उधारी के रुपयों से बचने के लिए साढ़े गयारह लाख की लूट की फर्जी सूचना देकर पुलिस को छका दिया. हालांकि, पुलिस ने दो घंटे के अंदर ही पूरे मामले का खुलासा कर दिया और आरोपी पर कार्रवाई कर रही है. घटना थाना बिलसंडा क्षेत्र की है. पुलिस के अनुसार, पेट्रोल पंप के मालिक ने उधारी की रकम चुकाने से बचने के लिए खुद ही लूट की फर्जी कहानी रची थी.

बताया जा रहा है कि ग्राम मानपुर के रहने वाले राजन तिवारी ने पुलिस को आकर सूचना दी कि पीलीभीत की पूरनपुर तहसील क्षेत्र की एक राईस मिल से 11 लाख चालीस हजार रूपये लेकर कार से निगोही जा रहा था. तभी पीछे से आ रही एक अन्य कार सवार बदमाशों ने गोली चला दी. गोली कार के पिछले शीशे में लगी. घबराकर राजन ने कार रोक दी. इसके बाद बदमाशों ने रुपये छीन लिए और राजन को रूमाल सुंघाकर बेहोश कर दिया और फरार हो गये. पेट्रोल पंप के मालिक ने होश आने पर पुलिस को सूचना दी. पुलिस तत्काल मामले की जांच में जुट गई.

वहीं, जिस राइस मिल से राजन ने पैसे लेना बताया था, जब उस राइस मिल मालिक से पूछा गया तो, उसने इनकार कर दिया. इसके बाद पुलिस को पता चला कि राजन ने निगोही के रहने वाले अपने एक दोस्त से 10 लाख रुपये दो दिन के वायदे पर उधार लिए थे. राजन का दोस्त लगातार पैसों की मांग कर रहा था. जिसके बाद राजन ने लूट की ये फर्जी कहानी गढ़ दी. फिलहाल पुलिस राजन पर कानूनी कार्रवाई कर रही है.