close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

PF घोटाला मामला: CM योगी पर अखिलेश का पटलवार बोले- 'सिटिंग जज से हो जांच'

अखिलेश यादव ने इस मामले को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ के इस्तीफ़े की भी मांग की है. एपी मिश्रा को एक्सटेंशन देने के मामले को टालते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि घोटाला और एक्सटेंशन दो अलग-अलग मामले हैं. 

PF घोटाला मामला: CM योगी पर अखिलेश का पटलवार बोले- 'सिटिंग जज से हो जांच'
अखिलेश यादव ने कहा कि सरकार घबराई हुई है. सच्चाई छिपा रही है.

लखनऊ: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में बिजली विभाग के कर्मचारियों के जीपीएफ और सीपीएफ खातों में जमा 2,268 करोड़ रुपये से ज्यादा की रकम दीवान हाउसिंग फाइनेंस कंपनी (डीएचएफएल) में फंसने के मामले पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के करीबी और बिजली विभाग (Electricity Department) के पूर्व एमडी एपी मिश्रा (AP Mishra) को गिरफ्तार किया गया है. इस गिरफ्तारी के बाद समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने यूपी सरकार पर जमकर निशाना साधा है.

एसपी अध्यक्ष अखिलेश यादव से जब यूपी पीसीसीएल में हुए पीएफ घोटाले और इसके पूर्व एमडी एपी मिश्रा को लेकर सवाल किए गए तो उन्होंने पलटकर यूपी सरकार पर ही हमला बोल दिया.  अखिलेश यादव ने कहा कि सरकार को बताना चाहिए कि पैसा किसने ट्रांसफर किया है, क्योंकि डीएचएफएल को पैसा योगी सरकार के कार्यकाल में ही ट्रांसफर किया गया है. 

अखिलेश यादव ने इस मामले को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ के इस्तीफ़े की भी मांग की है. एपी मिश्रा को एक्सटेंशन देने के मामले को टालते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि घोटाला और एक्सटेंशन दो अलग-अलग मामले हैं. 

लाइव टीवी देखें

अखिलेश यादव ने कहा कि यूपी सरकार डर रही है और इसीलिए वह सच्चाई को छिपा रही है. बीजेपी के सत्ता में आने के बाद बिजली कर्मचारियों के ईपीएफ का पैसे को डीएचएफएल में निवेश किया गया. उससे पहले ईपीएफ राशि को डीएचएफएल में निवेश नहीं किया गया था.

अखिलेश यादव ने कहा कि सरकार घबराई हुई है. सच्चाई छिपा रही है. बिजली विभाग में हुए घोटाले के लिए योगी आदित्यनाथ जिम्मेदार हैं. समाजवादी पार्टी सिटिंग जज से जांच कराने की मांग करती है.