PFI का मीडिया प्रभारी पकड़ा गया, राम मंदिर भूमिपूजन के बाद डाली थी आपत्तिजनक पोस्ट

मूलत: दिल्ली के रहने वाले मजीद पर आरोप है कि राम मंदिर भूमिपूजन के बाद इसने सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट डाली थी. पुलिस ने मजीद के अलावा भी प्रदेश भर में PFI और SDPI  के सदस्यों पर नजर बनाकर रखी है.

PFI का मीडिया प्रभारी पकड़ा गया, राम मंदिर भूमिपूजन के बाद डाली थी आपत्तिजनक पोस्ट
प्रतीकात्मक फोटो

लखनऊ: अयोध्या में राम मंदिर भूमिपूजन के बाद जहां देश में दीवाली मनाई जा रही थी, वहीं कुछ लोग धार्मिक उन्माद फैलाने वाली पोस्ट सोशल मीडिया पर सर्कुलेट कर रहे थे. यूपी पुलिस ने इनमें से कुछ लोगों को गिरफ्तार किया है. शुक्रवार को पुलिस की गिरफ्त में आया पॉप्युलर फ्रंट ऑफ इंडिया यानि पीएफआई का मीडिया प्रभारी अब्दुल मजीद. मजीद को लखनऊ में काकोरी थाना क्षेत्र की पुलिस ने पकड़ा है. मूलत: दिल्ली के रहने वाले मजीद पर आरोप है कि राम मंदिर भूमिपूजन के बाद इसने सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट डाली थी. उसके सोशल मीडिया अकाउंट पर कश्मीर से जुड़ी पोस्ट भी मिली हैं. 

पुलिस ने मजीद के अलावा भी प्रदेश भर में PFI और SDPI  के सदस्यों पर नजर बनाकर रखी है. इससे पहले भी पुलिस ने बहराइच के जरवल क्षेत्र से एक डॉक्टर व उसके दो अन्य साथियों को सोशल मीडिया पर कथित रूप से भड़काऊ संदेश वायरल करने के आरोप पकड़ा था. इनमें से भी एक सदस्य PFI और एक SDPI का था. पुलिस ने जब इन्हें पकड़ा, तब भी ये इसी काम में लगे हुए थे. जांच में आरोपियों के मोबाइल में भड़काऊ संदेश मिले, जिसके बाद तीनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है. 

खुजली और जुएं मारने की दवा से रुकेगा कोरोना संक्रमण, यूपी सरकार ने इस दवा के इस्तेमाल के निर्देश दिए 

PFI और SDPI क्या हैं?
यूपी में नागरिकता कानून के विरोध में हुई तमाम हिंसा को लेकर पॉपुलर फ़्रंट ऑफ़ इंडिया (PFI) नाम के संगठन का नाम आया. पुलिस ने बताया कि PFI आतंकी गतिविधियों में लिप्त संगठन है. कहा ये भी गया कि 6 महीनों से संगठन ने यूपी में आंदोलन और प्रदर्शन करने के लिए बाक़ायदा ट्रेनिंग प्रोग्राम चलाया. PFI का मूल कार्यक्षेत्र केरल रहा है. राजनीति में भी PFI का सक्रिय है. Social Democratic Party of India (SDPI) राजनीतिक पार्टी है, जो PFI से जुड़ी हुई है. इसके साथ ही SDPI Social Democratic Trade Union, PFI का एक मज़दूर संगठन है. इसके अलावा लम्बे समय से PFI पर प्रतिबंधित संगठन SIMI का बदला हुआ रूप भी कहा जाता है. 

WATCH LIVE TV