कोई अनजान शख्स आपका आशीर्वाद लेने के लिए पैर छुए, तो हो जाएं सावधान, बन सकते हैं शिकार

पुलिस ने बताया कि आरोपी वसीम बुजुर्गों के पांव छूकर उनसे आशीर्वाद लेता है और कहता है कि वह उनके आशीर्वाद से अमीर आदमी हो गया है.

कोई अनजान शख्स आपका आशीर्वाद लेने के लिए पैर छुए, तो हो जाएं सावधान, बन सकते हैं शिकार
3 नवंबर को आरोपी वसीम ने थाना वसंत विहार इलाके में एक बुजुर्ग महिला को लूट का शिकार बनाया था.

देहरादून: अगर कोई अनजान शख्स आपके पांव छूता है और आप से आशीर्वाद मांगता है, तो सावधान हो जाइए. ऐसा शख्स शातिर बदमाश हो सकता है और आपके साथ लूट की वारदात को अंजाम भी दे सकता है. दरअसल, देहरादून पुलिस ने पांव छूकर आशीर्वाद लेने के बहाने लूट करने वाले एक आरोपी को गिरफ्तार किया है. पुलिस जांच में पता चला है कि आरोपी मेरठ के इचौली थाना क्षेत्र का निवासी वसीम है. ये शातिर शख्स देहरादून के बुजुर्गों को अपना टारगेट बनाता था. 

पुलिस ने बताया कि आरोपी वसीम बुजुर्गों के पांव छूकर उनसे आशीर्वाद लेता है और कहता है कि वह उनके आशीर्वाद से अमीर आदमी हो गया है. अब उन्हें गिफ्ट देना चाहता है. पहले बुजुर्गों को अपने झांसे में लेकर उनको मोबाइल गिफ्ट करता था. इसके बाद वह कहता था कि नई कार लेने वाला है. कार लेने पर बड़ी अंगूठी गिफ्ट करेगा. अंगूठी का साइज लेने के बहाने अगूंठी निकलवा लेता था. इसके बाद बुजुर्ग को झांसा देकर फरार हो जाता था. वसीम देहरादून में दो बड़ी वारदातों को अंजाम दे चुका था. 

बुजुर्गों को अपना निशाना बनाता है आशीर्वाद लेने वाला गैंग
देहरादून पुलिस का दावा है कि 3 नवंबर को आरोपी वसीम ने थाना वसंत विहार इलाके में एक बुजुर्ग महिला को लूट का शिकार बनाया. उसने महिला के हाथ में पहने हुए कंगन को गिफ्ट में और बड़ा कंगन देने का झांसा दिया. महिला के हाथ से कंगन निकलवाकर वसीम फरार हो गया. इसी तरह से 11 नवंबर को वसीम और उसके साथी ने थाना पटेल नगर की एक बुजुर्ग को अपना निशाना बनाया. यहां उसने गिफ्ट में मोबाइल देकर बुजुर्ग की अंगूठी निकलवा ली और इसके बाद लेकर फरार हो गया. एसपी सिटी श्वेता चौबे ने बताया कि एक आरोपी पुलिस की गिरफ्त में आ चुका है और दूसरे आरोपी की तलाश की जा रही है.