पूरी फिल्मी अंदाज में की गई लूट की ये वारदात, राहुल शर्मा गैंग का पर्दाफाश

देहरादून के एक ज्वेलरी शॉप के 22 सितंबर को हुई लूट की वारदात का खुुलासा कर पुलिस ने राहुल शर्मा गैंग पर शिकंजा कसा है. पुलिस ने लूट गिरोह के दो सदस्यों को गिरफ्तार किया है, जबकि बाकी फरार बताए जा रहे हैं. 

पूरी फिल्मी अंदाज में की गई लूट की ये वारदात, राहुल शर्मा गैंग का पर्दाफाश
गिरफ्त में लूट गैंग

राम अनुज/ देहरादून: वर्चुअली घर पर रहने का ड्रॉमा करके लूट की वारदात को अंजाम देने वाले शातिर राहुल शर्मा गैंग का पुलिस ने पर्दाफाश किया है. गैंग से पुलिस ने लूट की सोने की ज्वैलरी भी बरामद की है. उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में 22 सितंबर को राहुल शर्मा गैंग ने ज्वेलरी शॉप के मालिक से लाखों रुपए की लूट की थी. बदमाशों ने बंदूक की नोक पर ज्वेलरी शॉप के मालिक से कैश और सोने की  ज्वेलरी लूटकर फरार हो गए थे. 

पढ़ें: एकतरफा प्यार में 'शोले' का 'वीरू' बना प्रेमी, कहा- "प्रेमिका को बुलाओ नहीं तो कूद कर दे दूंगा जान"

बदमाशों ने लूट की वारदात को बिल्कुल फिल्मी अंदाज में अंजाम दिया था. बदमाशों ने सबसे पहले दिल्ली में दो बाइक चोरी की और फिर चोरी-छिपे देहरादून पहुंचे. पुलिस लुटेरों की लोकेशन ट्रैस न कर सके इसलिए वर्चुअली तौर पर पुलिस को चकमा देने के लिए अपना मोबाइल घर पर ही छोड़ दिया था. लेकिन कहते हैं अपराधी वारदात के बाद कोई न कोई गलती करता है. यही गलती राहुल शर्मा गैंग ने भी की. 

पहली गलती
लूट की वारदात को अंजाम देकर भाग रहा एक बममाश सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया. इसके बाद पुलिस ने देहरादून से लेकर बुलंदशहर, मुजफ्फरनगर तक तकरीबन 500 सीसीटीवी कैमरे के फुटेज खंगाले. सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने बदमाशों की पहचान की और गिररफ्तारी करने घर पहुंच गई. 

दूसरी गलती 
पुलिस को बदमाशों ने वर्चुअली तौर पर घर में मौजूदगी का हवाला देते हुए फिर चकमा देने की कोशिश की. लेकिन वो भूलगए थे कि गैंग के सरगना राहुल शर्मा ने लूट की वारदात को अंजाम देने के दौरान एक राहगीर का मोबाइल फोन लेकर अपने घर बात की थी. जिसके बाद यह बात साफ हो गई कि बदमाश अपने घर पर मौजूद नहीं थे, वो पुलिस को सिर्फ चकमा दे रहे थे. 

पढ़ें: VIDEO: बेखौफ हैं दरिंदे, कहीं गला घोंटा, कहीं कमर तोड़ दी, ''निर्भया'' के साथ नहीं रुक रही हैवानियत

फिलहाल पुलिस ने राहुल शर्मा और नदीम नाम के दो बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है जबकि नईम और फैजल चौधरी नाम के दो बदमाश अभी भी पुलिस की गिरफ्त से फरार चल रहे हैं. लूट की वारदात का कोई भी सुराग बदमाश नहीं छोड़ना चाहते थे लिहाजा वो लूट की बाइक भी देहरादून में छोड़कर फरार हो गए. आपको बता दें कि गैंग का सरगना राहुल शर्मा बीए पास है. राहुल के खिलाफ अब तक 10 मुकदमे दर्ज हो चुके हैं. बुलंदशहर में लूट, डकैती जैसे संगीन मामले में मुकदमा दर्ज है. नईम के खिलाफ अब तक कुल 4 मुकदमे दर्ज हैं. एसपी सिटी देहरादून श्वेता चौबे ने कहा है कि पुलिस टीम को पुलिस मुख्यालय ने लूट का खुलासा करने के बाद 20 हजार रुपये इनाम देने का ऐलान किया है.  फिलहाल लूट की वारदात में शामिल अभी दो शातिर बदमाश फरार चल रहे हैं. पुलिस गिरफ्तार बदमाशों से पूछताछ कर रही है.अब देखना होगा पुलिस बदमाशों को कब गिरफ्तार करती है.