मेरठ और सहारनपुर की मस्जिदों में पुलिस ने मारा छापा, छिपाकर रखे गए थे 58 विदेशी

दिल्ली के निजामुद्दीन से तबलीगी मरकज में कोरोना के मामले सामने आने के बाद पूरे उत्तर प्रदेश में हड़कंप मचा हुआ है.  

मेरठ और सहारनपुर की मस्जिदों में पुलिस ने मारा छापा, छिपाकर रखे गए थे 58 विदेशी

मेरठ: दिल्ली के निजामुद्दीन तबलीगी जमात में शामिल हुए लोगों की तलाश उत्तर प्रदेश में जारी है. पश्चिमी यूपी के मेरठ और सहारनपुर में पुलिस ने छापामार कर मस्जिदों में छिपे 58 विदेशियों को पकड़ा है. सहारनपुर में अलग-अलग क्षेत्रों से अब तक 39 विदेशी जमाती मिले हैं, जो हाल ही में दिल्ली से लौटे हैं. बड़गांव, देवबंद और थाना गागलहेडी कैलाशपुर से मिले जमातियों को मेडिकल परीक्षण के लिए भेजा गया है. यहां से इन्हें क्वारंटाइन में भेजा जाएगा. आपको बता दें कि दिल्ली के निजामुद्दीन से तबलीगी मरकज में कोरोना के मामले सामने आने के बाद पूरे उत्तर प्रदेश में हड़कंप मचा हुआ है.

ये भी पढ़ें: बहारइच की दो मस्जिदों में छिपे थे 17 विदेशी, पुलिस ने छापा मारकर क्वारंटाइन में भेजा

मेरठ में पकड़े गए 19 विदेशी
निजामुद्दीन मरकज में तबलीगी जमात में शामिल हुए लोगों की तलाश मेरठ में भी जारी है. मेरठ के 8 लोगों में से एक व्यक्ति के वापस आने पर उसे होम क्वारंटाइन कर दिया गया है. साथ ही उसका सैंपल जांच के लिए भेज दिया गया है. उधर पुलिस कई दूसरी मस्जिदों में भी तलाश कर रही है. दो थाना इलाकों में 19 विदेशियों को पकड़ा गया है. सभी धर्म प्रचारक सूडान व केन्या के हैं, जो 17 मार्च से मवाना और सरधना की मस्जिदों में रूके हुए थे. पुलिस और खुफिया विभाग ने सभी के कागजात और पासपोर्ट कब्जे में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है. वहीं थर्मल स्कैनिंग में सभी स्वस्थ मिले हैं. विदेशियों को मस्जिदों में छिपाकर रखने वाले 5 लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है. इन लोगों ने मस्जिद के बाहर ताला लगा रखा था और पीछे के रास्ते से विदेशियों को खाना आदि सहूलियत का सामान दे रहे थे.

ये भी पढ़ें: UP में COVID-19 मरीजों की संख्या 100 के पार, अब लॉकडाउन में पैदल चलने वालों पर भी होगा एक्शन

(इनपुट: मेरठ से लोकेश, सहारनपुर से नीना जैन)

लाइव देखें उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड की खबरें: