close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

'धोखेबाज' हैं UP पुलिस के हथियार, बंदूकें हुईं जाम, सिपाही पेंचकस से निकलते रहे गोलियां

अयोध्या पर आने वाले सुप्रीम कोर्ट के फैसले के मद्देनजर यह मॉकड्रिल काफी महत्त्वपूर्ण थी, जिसमें दंगा नियंत्रण टीम रिहर्सल कर रही थी और जाम पड़ी बंदूकों ने पुलिस का साथ नहीं दिया.

'धोखेबाज' हैं UP पुलिस के हथियार, बंदूकें हुईं जाम, सिपाही पेंचकस से निकलते रहे गोलियां
एक बार फिर से यूपी पुलिस के हथियारों की पोल खुली है.

हमीरपुर : हमीरपुर (Hamirpur) में पुलिस के मॉक ड्रिल (Mock Drill) में उसकी पोल खुल गई. करीब आधा दर्जन बंदूकें मॉक ड्रिल में फेल हो गई. पुलिस वाले जाम हुई बन्दूकों को जमीन में ठोकते रहे लेकिन गोलियां नहीं चलीं. सिपाही पेंचकस से बंदूक में फंसी गोली निकालने में अपना दम लगाते दिखे. पुलिस (UP Police) की फजीहत के दौरान एसपी और आलाधिकारी मौजूद थे. 

दरअसल, हमीरपुर में हर शुक्रवार को पुलिस परेड ग्राउंड में साप्ताहिक परेड का आयोजन होता है. त्योहारों और अयोध्या पर आने वाले सुप्रीम कोर्ट के फैसले के मद्देनजर यह मॉकड्रिल काफी महत्त्वपूर्ण थी, जिसमें दंगा नियंत्रण टीम रिहर्सल कर रही थी और जाम पड़ी बंदूकों ने पुलिस का साथ नहीं दिया. सवाल उठता है कि जाम पड़ी इन बंदूकों से पुलिस बदमाशों और दंगाइयों से कैसे निपटेगी.

लाइव टीवी देखें

आपको बता दें कि इससे पहले मॉक ड्रिल के दौरान बलिया जिले में यूपी पुलिस की बंदूकों की पोल खुली थी. रिहर्सल के दौरान पुलिसकर्मी ने आंसू गैस के गोले दागने की कोशिश की, लेकिन लाख कोशिशों के बाद भी आंसू गैस का गोला नहीं दागा जा सका. इस कार्यक्रम में जिलाधिकारी भवानी सिंह खंगारौत और पुलिस अधीक्षक देवेंद्र नाथ भी मौजूद थे.