लखनऊ: दरोगा ने सरकारी आवास पर गोली मारकर की खुदकुशी

पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. पुलिस ने मौके से 12 बोर की बंदूक और खोखा बरामद किया है. 

लखनऊ: दरोगा ने सरकारी आवास पर गोली मारकर की खुदकुशी
घटना के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली/ लखनऊ: उत्तर प्रदेश पुलिस के पीपीएस अधिकारी और उत्तर प्रदेश आतंकवाद निरोधक दस्ता (यूपी एटीएस) में अपर पुलिस अधीक्षक (ASP) के पद पर तैनात राजेश साहनी ने अज्ञात कारणों से अपने कार्यालय में गोली मारकर आत्महत्या करने के बाद उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में शनिवार (09 जून) की सुबह यूपी पुलिस में तैनात एक दारोगा ने खुद को गोली मारकर खुदकुशी कर ली. घटना आलमबाग के लोको टोल टैक्स के पास स्थित सरकारी आवास की है. पुलिस आत्महत्या की वजह को जानने की कोशिश कर रही है. 

 

पुलिस महकमे में मचा हड़कंप 
घटना के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया. जैसे ही लोग दरोगा के कमरे की तरफ दौड़े तो उसका खून से लथपथ शव पड़ा हुआ था. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. पुलिस ने मौके से 12 बोर की बंदूक और खोखा बरामद किया है. 

परिवार के साथ रहता था दरोगा
आलमबाग के लोको टोल टैक्स के पास सरकारी आवास में दारोगा अपने परिवार के साथ रहता है. जानकारी के मुताबिक, दारोगा राजरतन वर्मा हरदोई जिला में डॉयल 100 में तैनात था. उसके परिवार में उसकी पत्नी और तीन बेटियां हैं. 

परिवार में मचा कोहराम 
घटना के बाद परिवार में कोहराम मचा हुआ है. आनन-फानन में दरोगा को अस्पताल ले जाया गया. जहां डॉक्टर्स ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. आत्महत्या करने के कारणों का अभी तक पता नहीं चल पाया है.