अब 'संगम' से दिल्ली दूर नहीं, 130 की रफ्तार से दौड़ी नई Prayagraj Express

16 जुलाई 1984 से शुरू हुई यह ट्रेन पिछले 40 सालों में यात्रियों के बीच बहुत लोकप्रिय रही है. प्रयागराज एक्सप्रेस का जंक्शन से रवाना होने का समय भले ही बढ़ा दिया गया हो, लेकिन ट्रेन पहले की तरह ही सुबह सात बजे ही नई दिल्ली पहुंची. 

अब 'संगम' से दिल्ली दूर नहीं, 130 की रफ्तार से दौड़ी नई Prayagraj Express

मोहम्मद गुफरान/प्रयागराज: संगम नगरी प्रयागराज से नई दिल्ली जाने वाली प्रयागराज एक्सप्रेस के खाते में बुधवार को एक और उपलब्धि दर्ज हुई है. प्रयागराज एक्सप्रेस 24 एलएचबी कोच (Linke Hofmann Busch coach) वाली देश की पहली ऐसी ट्रेन बन गई, जिसने अपने दिल्ली तक के सफर में 130 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार पकड़ी. अभी तक देश में सबसे ज्यादा 22 एलएचबी कोच वाली ट्रेनें ही 130 की रफ्तार से दौड़ सकती थीं. 

ये भी पढ़ें: पत्नी नहीं बदलना चाहती थी धर्म तो अकेला छोड़ा, Love Jihad का आरोपी गिरफ्तार

40 मिनट कम हो गया सफर 
प्रयागराज एक्सप्रेस की रफ्तार बढ़ने की वजह से अब और जल्दी दिल्ली पहुंचा जा सकेगा. पहले के मुकाबले दिल्ली पहुंचने में अब 40 मिनट कम समय लगेगा. बुधवार को यह गाड़ी अपने पूर्व निर्धारित समय रात 9.30 बजे की बजाय रात 10.10 बजे रवाना हुई. 

फूलों से सजाई गई ट्रेन, सभी कर्मचारियों को किया सम्मानित 
प्रयागराज एक्सप्रेस के खाते में नई उपलब्धि दर्ज होने के मौके पर एनसीआर जीएम राजीव चौधरी भी जंक्शन पहुंचे. इस दौरान उन्होंने ट्रेन के चालक (लोको पायलट), सुरक्षाकर्मी सहित अन्य स्टाफ को सम्मानित भी किया. सम्मानित होने वालों में लोको पायलट मो. अरशद खान, ट्रेन के सह-लोको पायलट अनिल कुमार तिवारी, गार्ड अरविंद तिवारी, ट्रेन कैप्टन पीपी पांडे, ट्रेन पर कार्यरत सी एंड डब्ल्यू तकनीशियन देव दत्त सोनी और आरपीएफ हेड कांस्टेबल नित्यानंद राय शामिल रहे. इस दौरान ट्रेन की रवानगी से पहले उसे फूलों से सजाया भी गया था. 

ये भी पढ़ें: धर्मांतरण संबंधी अध्यादेश: कैबिनेट से हुआ पास, अब गवर्नर की मुहर का इंतजार 

'गप्पू भैया' वीडियो हुआ लॉन्च 
इस दौरान जीएम राजीव चौधरी ने एनिमेशन आधारित कोविड-19 जागरुकता वीडियो 'गप्पू भैया' को भी लॉन्च किया. दरअसल, उत्तर मध्य रेलवे ने 2019 में एक एनीमेशन गप्पू भैया बनाया था. यह सीरीज रेलवे यात्रियों को सुरक्षा से संबंधित मुद्दों पर जागरूक करती थी और काफी लोकप्रिय थी. उसी एनीमेटेड कैरेक्टर 'गप्पू भैया' का प्रयोग अब कोविड-19 के दौरान यात्रियों को जागरुक करने के लिए किया जाएगा. 

पहले वाले समय पर ही पहुंचेगी दिल्ली 
बता दें की संगम नगरी से चलने वाली प्रयागराज एक्सप्रेस दिल्ली जाने वाले यात्रियों की सबसे पसंदीदा ट्रेनों में से एक है. 16 जुलाई 1984 से शुरू हुई यह ट्रेन पिछले 40 सालों में यात्रियों के बीच बहुत लोकप्रिय रही है. प्रयागराज एक्सप्रेस का जंक्शन से रवाना होने का समय भले ही बढ़ा दिया गया हो, लेकिन ट्रेन पहले की तरह ही सुबह सात बजे ही नई दिल्ली पहुंची. 

WATCH LIVE TV