close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पत्नी और बेटे की हत्या कर फांसी के फंदे पर झूला पुलिसकर्मी, मची सनसनी

घटना की जानकारी तब हुई जब फॉलोअर का छोटा बेटा घर पहुंचा. मृतक के छोटे बेटे ने बताया कि भाई बड़े सुनील की दिमागी हालत ठीक नहीं होने के चलते पिता अक्सर परेशान रहते थे. पुलिस मामले की जांच कर रही है. 

पत्नी और बेटे की हत्या कर फांसी के फंदे पर झूला पुलिसकर्मी, मची सनसनी
पुलिस मामले की जांच कर रही है.

प्रयागराज: सरकारी क्वार्टर में एक साथ तीन लाशें मिलने की खबर से प्रयागराज (Prayagraj) पुलिस लाइन में सनसनी फैल गई. फॉलोअर गोविंद नारायण का शव फंदे से लटका मिली. जबकि पत्नी और बेटे की खून से लथपथ लाशें जमीन पर मिलीं. घटना की जानकारी तब हुई जब फॉलोअर का छोटा बेटा घर पहुंचा. उसने मामले की जानकारी पुलिस को दी, जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा. 

पुलिस ने छानबीन शुरू कर दी है. मामले की जानकारी देते हुए पुलिस मने बताया कि पुलिस लाइंस के टाइप ए क्वॉर्टर में रहने वाले गोविंद नारायण डीआईजी रेंज कार्यालय में फॉलोअर के रूप में तैनात थे. उनके साथ पत्नी चंद्रावती, बड़ा बेटा सुनील और छोटा बेटा भारत साथ रहते थे. 

 

सोमवार (21 अक्टूबर) की देर शाम भारत जब काम से लौटा तो कमरे में मां चंद्रावती और बड़े भाई सुनील का शव उसे खून में लथपथ मिला जबकि पिता बाल गोविंद का शव छत से लटक रहा था. यह देख उसके होश उड़ गए. उसने तुरंत घटना की सूचना पुलिस को दी. भारत ने बताया कि भाई बड़े सुनील की दिमागी हालत ठीक नहीं होने के चलते पिता अक्सर परेशान रहते थे. 

 

पुलिस का कहना है कि प्रथम दृष्टया ऐसा लगता है कि गोविंद नारायण ने दोनों की हत्या करने के बाद खुद को फांसी लगा ली. हालांकि, पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद ही स्थिति साफ हो सकेगी. पुलिस ने बताया कि तीनों शव पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले की तफ्तीश शुरू कर दी है.