close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VIDEO: गेस्ट हाउस में बिजली गुल,अंधेरे में धरने पर बैठीं प्रियंका, सोनभद्र पीड़ितों से मिलने पर अड़ीं

प्रियंका गांधी चुनार गेस्ट में धरने पर बैठी हैं. इस गेस्ट हाउस में बिजली चली गई है और कांग्रेस कार्यकर्ता इसके लिए प्रशासन को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं. 

VIDEO: गेस्ट हाउस में बिजली गुल,अंधेरे में धरने पर बैठीं प्रियंका, सोनभद्र पीड़ितों से मिलने पर अड़ीं
(फोटो साभार- @INCIndia )

मिर्जापुर (उप्र): कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी सोनभद्र में 11 लोगों की हत्या के पीड़ितों से मिलने के लिए अड़ी हैं. फिलहाल प्रियंका गांधी चुनार गेस्ट में धरने पर बैठी हैं. इस गेस्ट हाउस में बिजली चली गई है और कांग्रेस कार्यकर्ता इसके लिए प्रशासन को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं. 

कांग्रेस कार्यकर्ताओ ने आरोप लगाय- वे प्रियंका गांधी और कांग्रेस कार्यकर्ताओं को परेशान करना चाहते हैं ताकि हम लोगों यहां से चले जाए. लेकिन मोमबत्तियों के साथ यहां रात गुजारेंगे, हम अपना विरोध प्रदर्शन जारी रखेंगे. बता दें शुक्रवार की दोपहर में मिर्जापुर जिला प्रशासन ने उन्हें हिरासत में ले लिया। पीड़ितों के घर जाने से रोके जाने के विरोध में प्रियंका गांधी और कांग्रेस के कई नेता धरने पर बैठ गए। 

'मैं पीड़ितों से मिले बिना नहीं लौटूंगी'
प्रियंका को मिर्जापुर की सीमा पर नारायणपुर के पास गिरफ्तार कर चुनार किला ले जाया गया। उन्होंने कहा, 'यहां से चाहे मुझे कहीं भी ले जाया जाए, लेकिन मैं पीड़ितों से मिले बिना नहीं लौटूंगी। सोनभद्र में धारा 144 लगने की स्थिति में मैं तीन लोगों के साथ परिजनों से मिलने वहां जाऊंगी, जिससे धारा 144 का उल्लंघन न हो सके।' 

प्रियंका ने कहा कि सोनभद्र के घोरावल क्षेत्र में जमीनी विवाद में जिस तरह जनसंहार किया गया, उसकी कांग्रेस भर्त्सना करती है। जिन 11 लोगों की मौत हुई है, उनके परिजनों के पुनर्वास की व्यवस्था के साथ राज्य सरकार उन्हें मुआवजा दे।

प्रियंका ने मांगा एसडीएम से वारंट
हिरासत में लिए जाने के बाद चुनार गेस्ट हाउस पहुंची प्रियंका ने सबसे पहले एसडीएम से वारंट मांगते हुए पूछा, 'बिना वारंट के आप मुझे कैसे यहां ले आए हैं?' इसके बाद अधिकारियों ने उन्हें निषेधाज्ञा लागू होने की बात कहकर समझाने की कोशिश की। प्रियंका ने चुनार किले पर सीओ से कहा,'बिना वारंट के गिरफ्तारी नहीं होती है। यह तो किडनैपिंग है।' 

इसके बाद सीओ हितेंद्र कृष्ण ने कहा, 'मैम, बगैर वारंट के भी गिरफ्तारी हो सकती है।' इसके बाद प्रियंका को चुनार गेस्ट हाउस ले जाया गया।