close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

IIT कानपुर में रैगिंग, 22 छात्रों पर गिरी गाज

आईआईटी कानपुर ने रैगिंग के खिलाफ बेहद कड़ा कदम उठाते हुए 22 दोषी छात्रों निलंबित कर दिया गया है. आईआईटी के उप निदेशक मणींद्र अग्रवाल ने बताया कि 16 छात्र 3 साल और बाकी 6 छात्र 1 साल के लिए निलंबित किए गए हैं.

IIT कानपुर में रैगिंग, 22 छात्रों पर गिरी गाज
आईआईटी कानपुर

आईआईटी कानपुर ने रैगिंग के खिलाफ बेहद कड़ा कदम उठाते हुए 22 दोषी छात्रों निलंबित कर दिया गया है. आईआईटी के उप निदेशक मणींद्र अग्रवाल ने बताया कि 16 छात्र 3 साल और बाकी 6 छात्र 1 साल के लिए निलंबित किए गए हैं. इस अवधि के बाद वे संस्थान में दोबारा पढ़ाई कर सकेंगे. सितंबर में सामने आए इस मामले के बाद संस्थान की सीनेट (सर्वोच्च अकादमिक बॉडी) ने दोषियों को अपना पक्ष रखने के लिए एक मौका भी दिया था.

गत 19 व 20 अगस्त की रात को द्वितीय वर्ष के छात्रों द्वारा संस्थान के छात्रावास में नये छात्रों के साथ रैगिंग का मामला सामने आया था. आईआईटी प्रशासन ने जांच के लिए एक समिति बनाई गई थी. समिति ने 22 सीनियर्स को रैगिंग का दोषी माना था.

ये भी पढ़ें: IIT कानपुर में जल्द खुलेगा रेलवे रिसर्च सेंटर, MOU पर हुए हस्ताक्षर

सोमवार को उन्हें अपना पक्ष रखने का एक मौका दिया गया. सुनवाई पूरी होने के बाद रैगिंग के मुख्य आरोपी 16 छात्रों को तीन साल के लिए निलंबित कर दिया गया. बचे हुए दोषी 6 छात्र एक साल तक निलंबित रहेंगे.