बस विवाद पर समाजवादी पार्टी ने तोड़ी चुप्पी, कहा- 'मजदूरों की मदद के नाम पर ढोंग कर रही BJP-कांग्रेस'

कांग्रेस को आड़े हाथ लेते हुए राम गोविंद चौधरी ने कहा कि जहां कांग्रेस की सरकार है वहां की स्थिति किसी से छिपी नहीं है. 

बस विवाद पर समाजवादी पार्टी ने तोड़ी चुप्पी, कहा- 'मजदूरों की मदद के नाम पर ढोंग कर रही BJP-कांग्रेस'
फाइल फोटो

पवन सिंह/लखनऊ: मजदूरों की घर वापसी के लिए बसों की सूची पर उपजे विवाद पर समाजवादी पार्टी ने अपनी चुप्पी तोड़ते हुए उत्तर प्रदेश सरकार और कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधा है. सपा के सीनियर लीडर और नेता प्रतिपक्ष राम गोविंद चौधरी ने मजदूरों की मदद के नाम पर बीजेपी और कांग्रेस पर दिखावा और ढोंग करने का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा कि इससे सिर्फ और सिर्फ मजदूरों को नुकसान हुआ है.

जी मीडिया से खास बातचीत में राम गोविंद चौधरी ने कहा कि लॉकडाउन में मजदूर मजबूर हैं लेकिन उनके दर्द को ना तो कांग्रेस की सरकारों ने समझने का प्रयास किया और ना ही भाजपा की सरकारें कर रही हैं. जहां-जहां इन दोनों पार्टियों की सरकार है, वहां प्रवासियों के लिए कोई व्यवस्था नहीं है.

ये भी पढ़ें: बस विवाद में कानूनी कार्रवाई झेल रहे अजय लल्लू की गिरफ्तारी को कांग्रेस ने बताया गैरकानूनी, कही ये बात

कांग्रेस को आड़े हाथ लेते हुए राम गोविंद चौधरी ने कहा कि जहां कांग्रेस की सरकार है वहां की स्थिति किसी से छिपी नहीं है. नेता प्रतिपक्ष ने योगी सरकार से विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने की मांग की है. उन्होंने कहा कि महामारी से पार पाने के लिए सरकार को सभी दलों की राय लेकर काम करना चाहिए. उन्होंने आरोप लगाया कि पूरे उत्तर प्रदेश में कानून-व्यवस्था बद से बदतर स्थिति में है, रोज हत्या-लूट-डकैती हो रही हैं.

मुश्किल की घड़ी में मजदूरों की मदद के लिए समाजवादी पार्टी की भूमिका पर राम गोविंद चौधरी ने कहा कि हम अपना काम कर रहे हैं. हमारे काम में कई जगह अड़चने भी पैदा की गई, लेकिन फिर भी हम मजदूरों की मदद करने के लिए लगे हुए हैं. राम गोविंद चौधरी ने दावा किया कि 2022 में सपा की एक बार फिर सत्ता में वापसी होगी.