रामविलास वेदांती बोले, 'पाकिस्तान से फंडिंग के लिए पुनर्विचार याचिका दाखिल कर रहा है AIMPLB'

रामविलास वेदांती ने कहा कि फैसले के समय सबने कहा था, कोर्ट का फैसला सबको स्वीकार होगा. अब ये लोग पुनर्विचार याचिका दाखिल करने की बात कह रहे हैं. 

रामविलास वेदांती बोले, 'पाकिस्तान से फंडिंग के लिए पुनर्विचार याचिका दाखिल कर रहा है AIMPLB'
रामविलास वेदांती ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ की राम मंदिर के ट्रस्ट में भूमिका को लेकर कहा कि ये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह को तय करना है.

नई दिल्ली: ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (AIMPLB) द्वारा सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या फैसले के खिलाफ पुर्नविचार याचिका दाखिल करने के फैसले पर अलग-अलग प्रतिक्रियाएं सामने आ रही हैं. इस मामले पर पूर्व सांसद और राम जन्मभूमि न्यास के वरिष्ठ सदस्य डॉ. रामविलास वेदांती ने कहा है कि एआईएमपीएलबी और जमीयत उलेमा-ए-हिंद की पुनर्विचार याचिका को सुप्रीम कोर्ट स्वीकार नहीं करेगा. वेदांती ने कहा कि पुनर्विचार याचिका दाखिल करना एआईएमपीएलबी और जमीयत उलेमा-ए-हिंद की मूर्खता होगी.

 

पुनर्विचार याचिका के मुद्दे पर रामविलास वेदांती ने आरोप लगाते हुए कहा कि एआईएमपीएलबी, पाकिस्तान की शह पर पुनर्विचार याचिका दाखिल करने की बात कर रहा है. एआईएमपीएलबी पाकिस्तान की ओर से फंडिंग करवाने के लिए पुनर्विचार याचिका दाखिल कर रहा है. उन्होंने कहा कि पुनर्विचार याचिका दाखिल करने का अधिकार केवल मुकदमा लड़ने वाले के पास होता है. सुन्नी वक्फ बोर्ड के मना करने के बाद ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड चाहता है कि पाकिस्तानी आतंकवादी संगठन की तरफ से उसे फंडिंग मिलती रहे. इसीलिए पुनर्विचार याचिका दाखिल की जा रही है.

रामविलास वेदांती ने कहा कि फैसले के समय सबने कहा था, कोर्ट का फैसला सबको स्वीकार होगा. अब ये लोग पुनर्विचार याचिका दाखिल करने की बात कह रहे हैं. वहीं, अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर सुप्रीम कोर्ट द्वारा ट्रस्ट के गठन पर वेदांती ने कहा कि ट्रस्ट में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सभी की भागीदारी होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि अंतराष्ट्रीय स्तर पर विश्व का सबसे बड़ा मंदिर बने राम मंदिर. इसी के साथ उन्होंने ट्रस्ट के अध्यक्ष के तौर पर महंत नृत्य गोपाल दास की वकालत की. राम विलास वेदांती ने कहा कि राम मंदिर निर्माण के लिए 67 एकड़ जमीन कम है. इसे कम से कम 200 एकड़ बनाया जाना चाहिए. 

रामविलास वेदांती ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ की राम मंदिर के ट्रस्ट में भूमिका को लेकर कहा कि ये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह को तय करना है. उन्होंने कहा कि ट्रस्ट की अध्यक्षता का निर्णय प्रधानमंत्री और गृह मंत्री के पास है. वहीं, उन्होंने कहा कि कांग्रेस ट्रस्ट को लेकरप षडयंत्र करना चाहती है. कांग्रेस के समर्थन वाले लोग ट्रस्ट को लेकर भ्रामक प्रचार कर रहे हैं. कांग्रेस के षडयंत्रकारी लोग अयोध्या में संतो को लड़ाना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि कांग्रेसियों की तरफ से कुछ तथाकथित संत भेजे गए थे, जो अयोध्या छोड़कर जा चुके हैं.