राम मंदिर निर्माण से पहले रामलला होंगे शिफ्ट, गर्भगृह से दूर इस जगह हो सकते हैं विराजमान

मंदिर निर्माण से पहले रामलला को दूसरे मंदिर में शिफ्ट किया जाएगा. मूल गर्भ गृह से करीब डेढ़ सौ मीटर दूरी पर स्थित मानस भवन के नजदीक उन्हें कुछ समय के लिए विराजमान किया जा सकता है.

राम मंदिर निर्माण से पहले रामलला होंगे शिफ्ट, गर्भगृह से दूर इस जगह हो सकते हैं विराजमान
सांकेतिक तस्वीर

अयोध्या: सुप्रीम कोर्ट के आदेश और श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के गठन के बाद से राम मंदिर निर्माण की कवायद तेज हो चुकी है. मंदिर निर्माण से पहले रामलला को दूसरे मंदिर में शिफ्ट किया जाएगा. मूल गर्भ गृह से करीब डेढ़ सौ मीटर दूरी पर स्थित मानस भवन के नजदीक उन्हें कुछ समय के लिए विराजमान किया जा सकता है.

बताया जा रहा है कि राम जन्मभूमि पर इंजीनियरों की टीम ने नाप जोख की है. राम मंदिर बनने से पूर्व रामलला को शिफ्ट किया जाएगा.शिफ्टिंग के लिए जगह को निर्धारित किया गया है. अस्थाई तौर पर मंदिर बनाकर तब तक उनकी पूजा-अर्चना होगी, जब तक राम लला का मंदिर बनकर तैयार नहीं होता.

रामलला के मुख्य पुजारी आचार्य सतेंद्र दास का कहना है कि इस वक्त जहां रामलला विराजमान हैं, वह गर्भगृह है, लेकिन मंदिर निर्माण के लिए उस जगह को खाली करना होगा. इंजीनियरों ने नाप जोख कर रामलला को शिफ्ट करने की जगह को चिन्हित किया है. मानस भवन के दक्षिण तरफ रामलला शिफ्ट हो सकते हैं. जहां रामलला के दर्शनार्थियों के लिए सरल व्यवस्था होगी. रामलला के नजदीक से भक्त दर्शन कर सकेंगे. उन्होंने कहा कि जन्म स्थान पर बाल रूप में रामलला विराजमान हैं, रामलला के साथ तीनों भाई लक्ष्मण, भरत, शत्रुघ्न भी विराजमान हैं.