साल के आखिरी दिन ठंड से ठिठुरा उत्तर भारत, कानपुर में 0° पहुंचा तापमान

ठंड का प्रकोप पूरे राज्य में इस कदर है कि अब तक तकरीबन 60 लोगों की मौत हो चुकी है. कई इलाकों में घना कोहरा होने के कारण तमाम सड़क हादसे भी हुए हैं.

साल के आखिरी दिन ठंड से ठिठुरा उत्तर भारत, कानपुर में 0° पहुंचा तापमान
मंगलवार को न्यूनतम तापमान 0 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया.

कानपुर: 2019 का आखिरी दिन कानपुर शहर के लिए बेहद ठंडा रहा. बढ़ती ठंड कानपुर में हर दिन नए कीर्तिमान स्थापित कर रही है. यहां, मंगलवार को न्यूनतम तापमान 0 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया. वहीं, बहराइच में पारा 0.2 डिग्री तक लुढ़क गया. मौसम विभाग के अनुसार, लखनऊ में 1973 के बाद आज न्यूनतम तापमान 0.5 डिग्री दर्ज किया गया. ठंड के प्रकोप के चलते कई इलाकों में घना कोहरा होने के कारण तमाम सड़क हादसे भी हुए हैं.

कानपुर में आलम ये रहा कि मंगलवार दोपहर 12 बजे तक कोहरा छाया रहा. वहीं, सर्द हवाओं की वजह से ठिठुरन और बढ़ गई. जन जीवन पूरी तरह अस्त व्यस्त रहा. ठंड से बचाव के लिए टोपी, मफलर, दस्ताने व जैकेट भी नाकाफी साबित हुए. लोग जगह-जगह पर आग का सहारा लेते दिखे. याद दिलाएं कि कुछ दिन पहले ही कानपुर में ठंड ने 44 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया था. यहां तापमान 1.8 डिग्री रिकॉर्ड किया गया था. जो सामान्य से 6 डिग्री कम था.

उधर, मौसम विभाग के अनुसार, आने वाले दिनों में ठंड से राहत मिलती नहीं दिख रही है. साथ ही एक और दो जनवरी को बारिश की संभावना बन रही है.

गौरतलब है कि पहाड़ों पर हो रही बारिश और बर्फबारी से मैदानी इलाकों में भीषण ठंड पड़ रही है. पूरा उत्तर भारत शीत लहर की चपेट में है.