मनचलों को सबक सिखाएगी UP Police की नारी शक्ति, 149 महिला सिपाही और 192 रंगरूट की भर्ती

 प्रयागराज पुलिस लाइन में दीक्षांत समारोह आयोजित किया गया था, जहां 149 महिला सिपाहियों ने शानदार परेड की और इसकी सलामी एडीजी जोन प्रेम प्रकाश और डीआईजी सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी ने ली.

मनचलों को सबक सिखाएगी UP Police की नारी शक्ति, 149 महिला सिपाही और 192 रंगरूट की भर्ती
प्रतीकात्मक तस्वीर.

प्रयागराज: उत्तर प्रदेश पुलिस अब और मजबूत होती नजर आ रही है. अब महिला अपराध को रोकने के लिए और मनचलों पर शिकंजा कसने के लिए नारी शक्ति आगे बढ़ रही है. सालों के इंतजार के बाद यूपी पुलिस में 192 रंगरूट और 149 महिला सिपाही शामिल हुई हैं. 

ये भी पढ़ें: Weather Alert: बदलने वाला है UP-उत्तराखंड का मौसम, इन इलाकों में बारिश और ओले की संभावना

पासिंग आउट परेड में दिखाया कौशल
गौरतलब है कि प्रयागराज पुलिस लाइन में दीक्षांत समारोह आयोजित किया गया था, जहां 149 महिला सिपाहियों ने शानदार परेड की और इसकी सलामी एडीजी जोन प्रेम प्रकाश और डीआईजी सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी ने ली. इसके साथ ही, चतुर्थ वाहिनी पीएसी में चल रही ट्रेनिंग के बाद 192 रंगरूटों ने पासिंग आउट परेड कर अपनी काबिलियत का प्रदर्शन किया. रंगरूट द्वारा प्रदर्शित की गई इस परेड की सलामी आईजी पीएसी बीआर मीणा ने ली. इसके बाद ट्रेनिंग में टॉप करने वाले कैंडिडेट को सम्मानित किया गया और फिर मुख्य अतिथि एडीजी प्रेम प्रकाश ने महिला रंगरूटों को निष्ठावान रहने की शपथ दिलाई. 

ये भी पढ़ें: UKPSC Recruitment 2021: RO/ARO के पदों पर निकली की भर्ती, इस लिंक से करें डायरेक्ट अप्लाई

2013 बैच की सिपाहियों की हुई भर्ती
यूपी पुलिस का हिस्सा बने रंगरूट ने साल 2013 में सिपाही की भर्ती करने के लिए आवेदन मांगे थे. लेकिन उस समय एग्जाम में गड़बड़ी होने की वजह से शासन ने रिजल्ट जारी करने पर रोक लगा दी थी. उस दौरान कैंडिडेट्स ने रोक के खिलाफ आवाज उठाई थी और कोर्ट से मदद मांगी थी. यह मामला सुप्रीम कोर्ट तक भी पहुंचा. इसके बाद सुनवाई हुई और कोर्ट ने आदेश दिया कि अभ्यर्थियों की ट्रेनिंग पूरी कराई जाए. 

ये भी पढ़ें: डंके की चोट पर सीएम योगी ने किया दावा- बंगाल चुनाव में परचम लहराएगी बीजेपी

प्रयागराज पुलिस लाइन में हुआ महिला सिपाहियों का आवंटन
कई जिलों में तैनात इन सिपाहियों की अलग जिलों में ट्रेनिंग हो रही थी. प्रयागराज की पुलिस लाइन में 164 महिला सिपाही भेजी गई थीं, जिनमें 149 ने फाइनल एग्जाम में हिस्सा लिया और ट्रेनिंग पूरी की. इसके साथ ही, 206 रंगरूट, जो पूर्वांचल से आए थे, उनका आवंटन चतुर्थ वाहिनी पीएसी धूमनगंज में हुआ था. इनमें से 192 सिपाहियों ने ट्रेनिंग पूरी की और पासिंग आउट परेड में हिस्सा लिया.

WATCH LIVE TV