close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दिमागी बुखार के लिए सर्तक हुई योगी सरकार, 79 जनपदों में चलाया जा रहा है अभियान

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा पिछले साल संचारी रोगों के नियंत्रण के लिए नोडल विभाग बनाये गए थे. संचारी रोग नियंत्रण के लिए किए जा रहे काम का अच्छा परिणाम मिला है. योगी ने सोमवार को कहा, संचारी रोग नियंत्रण और दस्तक अभियान बेहद सफल रहा है.

दिमागी बुखार के लिए सर्तक हुई योगी सरकार, 79 जनपदों में चलाया जा रहा है अभियान
यूपी को इंसेफेलाइटिस जैसी घातक बीमारी से निकालने के लिए यूनीसेफ द्वारा अभियान चलाया गया था.

लखनऊ : सीएम योगी लोकभवन में संचारी रोग नियंत्रण एवं दस्तक अभियान की शुरुआत करेंगे. सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा पिछले साल संचारी रोगों के नियंत्रण के लिए नोडल विभाग बनाये गए थे. संचारी रोग नियंत्रण के लिए किए जा रहे काम का अच्छा परिणाम मिला है. योगी ने सोमवार को कहा, संचारी रोग नियंत्रण और दस्तक अभियान बेहद सफल रहा है.

38 जिले प्रभावित थे
बता दें कि यूपी के 38 जिले इंसेफेलाइटिस से प्रभावित थी. यूपी को इंसेफेलाइटिस जैसी घातक बीमारी से निकालने के लिए यूनीसेफ द्वारा अभियान चलाया गया था. जिसके बाद योगी सरकार ने इसमें मदद की. योगी आदित्यनाथ ने कहा, मुझे बहुत प्रसन्नता है कि विगत वर्ष जिस तरह अभियान बना कर विभाग ने जिस तरह काम किया था , उसका असर विगत वर्ष भी दिखा था औऱ इस बार भी बड़े स्तर पर दिखेगा. 

सीएम योगी ने जताई खुशी
यह एक सफलता पूर्वक चलाया गया अभियान थाऔऱ एक बार फिर से इसे चलाया जाएगा. लबे अरसे से ये संचारी रोग अपना असर पूर्वांचल में दिखा रहे थे. साल दर साल इससे मौतों की संख्या बढ़ती गई, लेकिन पहले की सरकारों में इस पर सोचने का समय नहीं था, 2017 में हमने इस पर काम शुरू किया. स्वछता के द्वारा इस पर काम 2014 मे ही प्रधानमंत्री मोदी जी ने शुरू कर दिया और 2014 से चले इस अभियान में जब उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार बनी तो बड़े स्तर पर उत्तर प्रदेश में काम हुआ और लोगों के स्वास्थ्य में सुधार देखने को मिला.