प्रतापगढ़: मैनेजर और कैशियर को बंधक बनाकर बदमाशों ने लूटे बैंक

बदमाश दो बाइक पर सवार होकर आए और सभी को हथियार के बल पर बंधक बना लिया, फिर लूट की वारदात को अंजाम दिया.

प्रतापगढ़: मैनेजर और कैशियर को बंधक बनाकर बदमाशों ने लूटे बैंक
प्रतीकात्मक फोटो.

प्रतापगढ़: उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ में बदमाशों के हौसले इस कदर बुलंद हैं कि दिन दहाड़े बैंक के अंदर घुसकर करीब 6 लाख से ज्यादा की डकैती की वारदात को अंजाम दिया. जानकारी के मुताबिक, बाइक सवार आधा दर्जन सशत्र बदमाशों ने मैनेजर और कैशियर को बंधक बनाने की कोशिश की. जब उन्होंने इसका विरोध किया तो उन्हें मारने-पीटने के बाद तमंचा लगाकर बंधक बनाकर इस घटना को अंजाम दिया. बैंक लूट लेने के बाद बदमाश आराम से वहां से फरार हो गए. सूचना मिलने पर पुलिस अधीक्षक देव रंजन भी मौके पर पहुंचें. पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

यह मामला अंतु कोतवाली थाना क्षेत्र के जगेशरगंज स्थित बड़ौदा ग्रामीण बैंक का है. इस वारदा को उस समय अंजाम दिया गया जब पुलिस प्रशासन की पूरी टीम डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य की अगवानी में जगह-जगह तैनात थी. बैंक के अधिकारियों ने बताया कि दोपहर करीब 12 बजे दो बाइक पर सवार होकर करीब आधा दर्जन बदमाश हथियार से लैस होकर बैंक के अंदर घुसे.

'यह सवर्णों का क्षेत्र है, यहां पर SC/ST का विरोध है, कृपया भाजपा के लिए वोट न मांगें '

दो बदमाश बैंक के गेट पर हथियार लेकर पहरा देने लगे और बाकी बदमाश अंदर घुस गए. इस दौरान बैंक मैनेजर और कैशियर को बंधक बना लिया गया. विरोध करने पर उनकी पिटाई भी की गई. सभी ग्राहकों को एकसाथ कर हथियार के बल पर चुप रहने को कहा गया. बदमाशों ने बैंक से करीब 4 लाख 68 हजार और बैंक के भीतर मौजूद लोगों से करीब 1 लाख रुपए लूट लिए.

बदमाशों के जाते ही पुलिस को लूट की सूचना दी गई, जिससे हड़कंप मच गया. आनन-फानन में कई थानों की पुलिस जो डिप्टी सीएम की अगवानी में लगी थी बदमाशों की धर पकड़ में लगा दी गई. पुलिस सीसीटीवी फुटेज के आधार बदमाशों की पहचान करने में जुटी हुई है.

(इनपुट-सुनील यादव, जी मीडिया, प्रतापगढ़)