close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अलीगढ़: देश में पहली बार चाचा नेहरू मदरसा में होगा मंदिर-मस्जिद का निर्माण

मदरसा की संचालक पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी की पत्नी सलमा अंसारी ने मदरसे में मंदिर के निर्माण को लेकर कट्टरपंथियों की आपत्ति के सवाल पर कहा, "मुझे फर्क नहीं पड़ता है कि कोई क्या कह रहा है." 

अलीगढ़: देश में पहली बार चाचा नेहरू मदरसा में होगा मंदिर-मस्जिद का निर्माण
उन्होंने बताया कि मदरसे में चार हजार मुस्लिम और एक हजार से अधिक हिंदू बच्चे पढ़ रहे हैं.(Photo:ANI)

अलीगढ़: अलीगढ़ स्थित चाचा नेहरू मदरसा में मंदिर-मस्जिद का निर्माण कराया जाएगा. यह घोषणा मदरसा की संचालक पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी की पत्नी सलमा अंसारी ने शनिवार को की है. सलमा ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि देश में इस तरह का यह पहला मदरसा होगा, जहां एक ही प्रांगण में मंदिर और मस्जिद दोनों होंगे. उल्लेखनीय है कि सलमा अंसारी अलीगढ़ में 19 साल से यह मदरसा चला रही हैं, जिसमें छह बड़े दानदाता हिंदू हैं. उन्होंने बताया कि मदरसे में चार हजार मुस्लिम और एक हजार से अधिक हिंदू बच्चे पढ़ रहे हैं.

मदरसे में मंदिर के निर्माण को लेकर कट्टरपंथियों की आपत्ति के सवाल पर उन्होंने कहा, "मुझे फर्क नहीं पड़ता है कि कोई क्या कह रहा है." सलमा के अनुसार, वह यहां के हॉस्टल में रहकर पढ़ाई करने वाले हिन्दू बच्चों की सुरक्षा की खातिर यह मंदिर बनवा रही हैं. दो महीनों में मदरसा में मंदिर और साथ ही मस्जिद बनकर तैयार हो जाएंगे.

उन्होंने कहा, "देश तथा प्रदेश में आज का माहौल ठीक नहीं है. हॉस्टल से बाहर मंदिर दर्शन के लिए जाते समय किसी बच्चे के साथ कुछ हो गया तो इस मामले में जवाब देते नहीं बनेगा. अब मदरसा में ही मंदिर बनाया जाएगा. इस मंदिर में शिवजी और हनुमानजी की मूर्तियां होंगी. दो महीने में मंदिर बनकर तैयार हो जाएगा, और मस्जिद भी." बिजनौर के एक मदरसा में हथियार मिलने पर उन्होंने कहा, "यह बेहद शर्मनाक घटना है. किसी भी शर्मनाक प्रकरण से बचने के लिए वहां की सुरक्षा की जिम्मेदारी तो मदरसा संचालकों को ही निभानी चाहिए."