close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

NRC मामले में अपर्णा यादव ने दिया अखिलेश से हटकर बयान

अपर्णा यादव ने कहा कि NRC का मामला देश की सुरक्षा से जुड़ा है.

NRC मामले में अपर्णा यादव ने दिया अखिलेश से हटकर बयान
(फोटो-ANI)

लखनऊ: असम में राष्‍ट्रीय नागरिक रजिस्‍टर (NRC) के मामले को लेकर राजनीति का पारा चढ़ा हुआ है. NRC जारी होने के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी इसका पुरजोर विरोध कर रही हैं. इस बीच मुलायम सिंह यादव परिवार की बहू और सपा नेता अपर्णा यादव ने NRC मामले पर बयान देते हुए कहा कि जो लोग कानूनी रूप से देश में निवास कर रहे हैं, उनसे किसी को समस्या नहीं है. लेकिन, जो लोग गलत तरीक से भारत में रह रहे हैं, उनसे तमाम समस्याएं हैं. 

इम मामले में ममता बनर्जी और उनकी पार्टी TMC द्वारा किए जा रहे विरोध को लेकर अपर्णा यादव ने कहा कि ममता बनर्जी को गैर कानूनी रूप से देश में रह रहे अप्रवासियों का समर्थन नहीं करना चाहिए. उन्हें इस मामले में विचार करना चाहिए. यह मामला राजनीति से जुड़ा हुआ नहीं है, बल्कि देश की सुरक्षा से जुड़ा मामला है.

 

 

अपर्णा का बयान पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव के बयान से हटकर है. NRC मामले को लेकर पिछले दिनों अखिलेश यादव ने ट्वीट किया था, जिसमें उन्होंने कहा था, "सबको स्वीकार करने की भावना, सहिष्णुता व वसुधैव कुटुम्बकम हमारी संस्कृति के मूल मूल्य हैं. इसीलिए हमें नागरिकता के विषय पर मानवीय पहलू को समझकर ही कोई निर्णय करना चाहिए, लेकिन इसमें न तो राष्ट्रीय सुरक्षा से कोई समझौता होना चाहिए और न ही कोई संकीर्ण राजनीतिक सोच या तुच्छ लक्ष्य."

 

 

दूसरी तरफ बसपा प्रमुख मायावती इस मामले में बीजेपी को निशाने पर लेते हुए कहा था कि बीजेपी धार्मिक आधार पर भेदभाव कर रही है. उन्होंने बीजेपी पर दलितों और अल्पसंख्यकों को जान बूझकर परेशान करने का आरोप लगाया था.

बता दें, पहली बार नहीं है जब अपर्णा यादव ने बीजेपी का समर्थन किया हो. इससे पहले भी तीन तलाक के मुद्दे पर वो बीजेपी का समर्थन कर चुकी हैं. उस दौरान अपर्णा यादव सीएम योगी आदित्यनाथ से भी मिली थीं.