SP का मायावती पर तंज, ''सब जानते हैं आप किसकी मूर्तियां लगवाती हैं, लखनऊ से नोएडा तक मौजूद हैं प्रमाण''

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव अभिषेक मिश्र ने कहा, ''मायावती 4 बार उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री रह चुकी हैं. हम सभी जानते हैं कि जब वह सत्ता में होती हैं तो किसकी मूर्तियां स्थापित की जाती हैं. इसका प्रमाण लखनऊ से लेकर नोएडा तक मौजूद है.''

SP का मायावती पर तंज, ''सब जानते हैं आप किसकी मूर्तियां लगवाती हैं, लखनऊ से नोएडा तक मौजूद हैं प्रमाण''
बसपा सुप्रीमो मायावती (L), सपा के राष्ट्रीय सचिव अभिषेक मिश्रा (R).

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में जैसे-जैसे विधानसभा चुनाव का समय नजदीक आ रहा है, राजनीतिक पार्टियां अपना वोट बैंक साधने और दूसरे के वोट बैंक में सेंध लगाने की जुगत में जुट गई हैं. कांग्रेस के बाद अब समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी का भी ब्राह्मण समुदाय के प्रति प्यार परवान चढ़ने लगा है.

सपा ने एक दिन पहले घोषणा की थी कि वह राजधानी लखनऊ में भगवान परशुराम की 108 फीट ऊंची मूर्ति स्थापित करवाएगी. उसके अगले ही दिन बसपा सुप्रीमो मायावती ने ऐलान किया कि उनकी पार्टी अगर यूपी की सत्ता में आती है तो वह समाजवादी पार्टी से भी ऊंची परशुराम प्रतिमा लगावएंगी.

UP में शुरू हुई ब्राह्मणवाद की सियासत, सपा के बाद मायावती का ऐलान- लगाएंगे परशुराम की भव्य प्रतिमा

परशुराम की मूर्ति को लेकर सपा का मायावती पर तंज
बसपा प्रमुख मायावती के इस ऐलान पर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव अभिषेक मिश्र ने पलटवार किया है. उन्होंने कहा, ''मायावती 4 बार उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री रह चुकी हैं. हम सभी जानते हैं कि जब वह सत्ता में होती हैं तो किसकी मूर्तियां स्थापित की जाती हैं. इसका प्रमाण लखनऊ से लेकर नोएडा तक मौजूद है.''

भाजपा ने रद्द की परशुराम जयं​ती की छुट्टी: अभिषेक मिश्र
बीजेपी पर भी हमलावर होते हुए सपा नेता ने कहा, ''ब्राह्मणों की इतनी ही चिंता है तो भाजपा इस समय सरकार में है. उसे सपा से भी बड़ी परशुराम मूर्ति स्थापित करनी चाहिए. असल में बीजेपी ही वह पार्टी है जिसने सपा सरकार द्वारा भगवान परशुराम की जयंती पर छुट्टी के आदेश को रद्द कर दिया है. सपा सरकार में आएगी तो परशुराम जयंती पर दोबारा छुट्टी घोषित की जाएगी.''

अखिलेश यादव का सियासी मास्टरस्ट्रोक, जब सबके हैं 'राम' तो समाजवादी पार्टी को याद आए 'परशुराम'

ब्राह्मण वोट के लिए सपा को याद आए परशुराम: मायावती
इससे पहले उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सपा और अखिलेश यादव पर हमला बोला. उन्होंने कहा, ''उन्हें अपने कार्यकाल में ही परशुराम की प्रतिमा लगवा लेनी चाहिए थी. लेकिन चुनाव आने से पहले समाजवादी पार्टी ब्राह्मण वोटों के खातिर मूर्ति लगाने की बात कह रही है, जिससे पता चलता है कि सपा की हालत प्रदेश में कितनी खराब है. सत्ता में आने पर हम सपा से भी ऊंची परशुराम प्रतिमा लगाएंगे. बसपा, समाजवादी पार्टी की तरह सिर्फ कहती नहीं है, करके दिखाती है. हमारी पार्टी हर समाज, जाति, धर्म के संतों, महापुरुषों को पूरा सम्मान देती है.''

WATCH LIVE TV