close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

SP का पोल-खोल अभियान आज, योगी सरकार को आंकड़ों पर घेरने का प्लान

Samajwadi Party: इस अभियान के तहत एसपी कार्यकर्ता जिलों में तहसील स्तर पर सरकार की नीतियों के खिलाफ प्रदर्शन करेंगे. 11 सूत्रीय मांगों को लेकर प्रत्येक जनपद में तहसील स्तर पर समाजवादी पार्टी धरना देगी. 

SP का पोल-खोल अभियान आज, योगी सरकार को आंकड़ों पर घेरने का प्लान
एसपी ने इस प्रदर्शन का नाम भी दिया है 'बीजेपी घेरो, पोल खोलो'.

लखनऊ: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में उपचुनाव (By- Election) का बिगुल बज चुका है. सत्तासीन पार्टी को घेरने के लिए विपक्ष ने मोर्चाबंदी कर दी है. इसी कड़ी में आज (01 अक्टूबर) समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के अध्यक्ष अखिलेश यादव भी पूरे प्रदेश में योगी सरकार (Yogi Government) के खिलाफ पोल-खोल अभियान चलाने जा रहे हैं. इसके तहत एसपी ने सरकार को आंकड़ों पर घेरने का प्लान बनाया है और इसकी जिम्मेदारी युवाओं को दी गई है. 

इस अभियान के तहत एसपी कार्यकर्ता जिलों में तहसील स्तर पर सरकार की नीतियों के खिलाफ प्रदर्शन करेंगे. 11 सूत्रीय मांगों को लेकर प्रत्येक जनपद में तहसील स्तर पर समाजवादी पार्टी धरना देगी. 

समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता बढ़ती मंहगाई, भ्रष्टाचार, किसानों की बदहाली, बेरोजगारी, ध्वस्त कानून-व्यवस्था, सांसद आजम खान और उनकी जौहर यूनिवर्सिटी के खिलाफ बदले की भावना से हो कार्रवाई के विरोध में समाजवादी पार्टी धरना देगी. 

एसपी ने इस प्रदर्शन का नाम भी दिया है 'बीजेपी घेरो, पोल खोलो'. दरअसल पार्टी का प्लान है जनहित कि हर योजना के तथ्य और आंकड़े जुटाकर बीजेपी के दावों की पोल खोलना है. एसपी कार्यकर्ता बीजेपी को मुद्दों पर बहस की चुनौती भी देंगे. इसके लिए युवाओं को साथ जोड़ा जाएगा.

लाइव टीवी देखें

दरअसल, लोकसभा में बीजेपी से हार का मुंह देखने के बाद समाजवादी पार्टी अब होने वाले यूपी उपचुनाव और 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए कमर कस रही है. पार्टी ने युवाओं के को ये निर्देश दिए हैं कि वह इस पोल-खोल प्रदर्शन में बीजेपी के काम को तथ्यों और आंकड़ों के साथ लोगों को सामने लाए, क्योंकि बीजेपी रोजगार समेत कई मुद्दे पर झूठ बोलती आ रही है.