नशे में धुत थे ड्यूटी पर तैनात दारोगा, जबरन काट रहे थे चालान, लोगों ने लगा दी क्लास

भीड़ से बचने के लिए दारोगा ने खुद को मुरादाबाद की जीआरपी में तैनात अफसर बताया, जबकि दारोगा चंदौसी कोतवाली में तैनात था. बताया जा रहा है कि वह कई दिन से शहर में लोगों को परेशान कर रहा था.

नशे में धुत थे ड्यूटी पर तैनात दारोगा, जबरन काट रहे थे चालान, लोगों ने लगा दी क्लास

संभल: यूपी के संभल में ड्यूटी पर तैनात दारोगा की शराब के नशे में धुत अभद्र हरकतें करने की खबर सामने आ रही है. नशे में दारोगा बदतमीजी पर उतर आए और लोगों से मारपीट की. इसकी तस्वीर भी वायरल हो रही है. बताया जा रहा है कि शराबी दारोगा पर अवैध वसूली करने का भी आरोप है. दारोगा द्वारा खड़े किए गए बवाल की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने उन्हें काबू कर दारोगा की मेडिकल जांच कराई है. जांच में दारोगा के शराब पीने की पुष्टि हुई है. 

सरकारी नल से पानी पीने पर छोटे भाई से हुआ विवाद, आपा खोकर लोहे की रॉड से कर दी हत्या

एसपी ने कही कार्रवाई की बात
दारोगा के नशे में होने की पुष्टि के बाद जिले के एसपी ने उनके खिलाफ कार्रवाई की बात कही है. आरोपी दारोगा का नाम रामभूल सिंह है और वह चंदौसी कोतवाली में तैनात बताया जा रहा है. 

कानपुर विधायक सुरेंद्र मैथानी के घर के बाहर फेंका गया बम, 3 आरोपी धर दबोचे गए

लोगों के पास मास्क होने के बावजूद काटने लगा चालान
मामला चंदौसी कोतवाली इलाके में रेलवे स्टेशन के पास का है. यहां पर बीती रात करीब 10.00 बजे आरोपी दारोगा रामभूल सिंह के हंगामे और लोगों से मारपीट की सूचना पुलिस को मिली. बताया जा रहा है दारोगा एक सिपाही के साथ बाइक से चंदौसी रेलवे स्टेशन के पास तिराहे पर पहुंचे और आने-जाने वाले बाइक सवारों से मास्क होने के बावजूद चालान काट जुर्माना वसूलने लगे. जबकि दारोगा के पास खुद भी मास्क नहीं था. जब लोगों ने दारोगा उनके मास्क के बारे में पूछा को वह मारपीट और गाली गलौज पर उतर आए और हंगामा शुरू कर दिया. बवाल देख काफी भीड़ इकट्ठा हो गई वहां मौजूद लोगों ने दारोगा की क्लास लगानी शुरू कर दी. 

500mg की दवा को बीच से तोड़ दें तो वह 250mg की रह जाती है? जानें क्या है सच्चाई

खुद को बचाने के लिए बताई गलत पोस्ट
भीड़ से बचने के लिए दारोगा ने खुद को मुरादाबाद की जीआरपी में तैनात अफसर बताया, जबकि दारोगा चंदौसी कोतवाली में तैनात था. बताया जा रहा है कि वह कई दिन से शहर में लोगों को परेशान कर रहा था. इस बीच मौके पर मौजूद किसी युवक ने इलाके के सीओ गोपाल सिंह को हंगामे की सूचना दे दी. इसके बाद चंदौसी कोतवाली पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शराबी दारोगा को काबू किया और चंदौसी सरकारी अस्पताल में उसका मेडिकल टेस्ट कराया. 

99% लोग गलत तरीके से धोते हैं जींस, आप भी इन्हीं में शामिल हैं तो यहां जान ले सही तरीका

नशे में होने की हुई पुष्टि
डॉ. हरवेंद्र सिंह ने मेडिकल जांच रिपोर्ट में दारोगा के शराब पीने की पुष्टि की है. वहीं, जनपद के एसपी चक्रेश मिश्र ने मामले की जांच के बाद  दारोगा रामभूल सिंह के खिलाफ कार्रवाई की भी बात कही है. 

WATCH LIVE TV