close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सपा में वापसी पर अखिलेश के 'ग्रीन सिग्नल' पर डगमगाया शिवपाल का प्रण, कहा- 'सम्मान मिला तो...'

शिवपाल सिंह यादव ने समाजवादी पार्टी के साथ जाने के मुद्दे पर कहा कि हम कभी नहीं चाहते थे कि समाजवादी पार्टी से कभी अलग भी होना पड़े.

सपा में वापसी पर अखिलेश के 'ग्रीन सिग्नल' पर डगमगाया शिवपाल का प्रण, कहा- 'सम्मान मिला तो...'
शिवपाल ने आजम खान के ऊपर दर्ज मुकदमों के बारे में कहा कि यह सब बदले की भावना से काम किया जा रहा है.

खालिद रियाज़/बदायूं: समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव की ओर सभी पुराने साथियों के लिए पार्टी के दरवाजे खुले होने वाला बयान आने के बाद उनके चाचा शिवपाल सिंह यादव का प्रण डगमगाता दिख रहा है. मीडिया के सामने कभी भी सपा में नहीं जाने का प्रण लेने वाले शिवपाल यादव के नए बयान से लग रहा है कि वह भी भतीजे अखिलेश से नाराजगी दूर करने के मूड में दिख रहे हैं.

दरअसल, उत्तर प्रदेश के बदायूं में प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (PSPL) के नेता शिवपाल सिंह यादव (Shivpal singh yadav) बुधवार को अपनी पार्टी के नेता अंजुम रजा की मृत्यु पर शोक प्रकट करने उनके घर पहुंचे. इसके बाद शिवपाल सिंह ने मीडिया से बातचीत में कहा कि विधानसभा चुनाव 2022 में उनकी पार्टी गठबंधन करेगी. वहीं, 2022 के विधानसभा चुनावों से पहले समाजवादी पार्टी में शामिल होने के मुद्दे पर शिवपाल सिंह ने कहा कि मैं कई बार कह चुका हूं कि हम गठबंधन करेंगे और बातचीत चल रही है तो हम तैयार हैं गठबंधन के लिए.

वहीं, शिवपाल सिंह यादव ने समाजवादी पार्टी के साथ जाने के मुद्दे पर कहा कि हमने बहुत सोच समझकर अलग पार्टी बनाई थी. उन्होंने कहा कि हम कभी नहीं चाहते थे कि समाजवादी पार्टी से कभी अलग भी होना पड़े. उन्होंने कहा कि नेताजी (मुलायम सिंह यादव) के साथ बहुत संघर्ष के बाद हमने इतनी बड़ी पार्टी बनाई थी. परिवार के झगड़े पर उन्होंने कहा कि कुछ लोग षड्यंत्रकारी हैं. हमने कभी नहीं चाहा कि हम लोग अलग-अलग हो. समाजवादी पार्टी से हमने कभी अलग होना नहीं चाहा, लेकिन होना पड़ा. 

विधानसभा चुनाव पर उन्होंने कहा कि जहां हमें सम्मान मिलेगा, वहां हम गठबंधन जरूर करेंगे. इसके साथ ही उन्होंने आजम खान के ऊपर दर्ज मुकदमों के बारे में कहा कि यह सब बदले की भावना से काम किया जा रहा है. यह सब कुछ प्रदेश की योगी सरकार के इशारे पर हो रहा है. उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था पर बोलते हुए शिवपाल ने कहा कि प्रदेश की कानून व्यवस्था बिल्कुल खराब है. हत्या, बलात्कार और चोरी-डकैती खूब हो रही है. अधिकारी मनमाने तरीके से सरकार को चला रहे हैं. कहीं भी बिना रिश्वत के कोई काम नहीं हो रहा. एक तरह से पूरे देश में अघोषित इमरजेंसी है. जिस पर चाहो उस पर मुकदमा लिखा दो और जिसे चाहो उसे बंद कर दो.