'श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र' ट्रस्ट के अध्यक्ष बनाए गए महंत नृत्य गोपाल दास, चंपत राय होंगे महासचिव

विहिप नेता चंपत राय को ट्रस्ट का महासचिव बनाया गया है. नृपेंद्र मिश्र को निर्माण समिति का चेयरमैन बनाया गया है.

'श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र' ट्रस्ट के अध्यक्ष बनाए गए महंत नृत्य गोपाल दास, चंपत राय होंगे महासचिव
दिल्ली में हुई 'श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र' ट्रस्ट की पहली बैठक.

दिल्ली: 'श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र' ट्रस्ट की पहली बैठक में महंत नृत्य गोपाल दास को ट्रस्ट का अध्यक्ष बनाया गया है. वहीं, विश्व हिंदू परिषद (VHP) नेता चंपत राय को ट्रस्ट का महासचिव बनाया गया है. रिटायर्ड आईएएस अधिकारी नृपेंद्र मिश्र को राम मंदिर भवन निर्माण समिति का चेयरमैन और गोविंद देव गिरि को ट्रस्ट का कोषाध्यक्ष नामित किया गया है. बता दें कि नृपेंद्र मिश्र प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पूर्व प्रधान सचिव रह चुके हैं. ट्रस्ट की पहली बैठक में मंदिर निर्माण की तारीख को लेकर कोई फैसला नहीं लिया गया है. जानकारी के मुताबिक अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण कब शुरू होगा, इस सवाल का जवाब 15 दिन बाद मिलेगा. जब अयोध्या में एक बार फिर ट्रस्ट के पदाधिकारी जुटेंगे. इस बैठक में भवन निर्माण समिति अपनी रिपोर्ट भी पेश करेगा.

अयोध्या SBI बैंक में खोला गया खाता

जानकारी के मुताबिक पुराने राम मंदिर के मॉडल पर ही राम मंदिर का निर्माण होगा. 'श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र' ट्रस्ट का बैंक अकाउंट अयोध्या SBI बैंक में खोला गया है. अकाउंट का संचालन अनिल मिश्रा, गोविंद देव गिरि और चंपत राय संयुक्त तौर पर करेंगे. दिल्ली की फर्म वी शंकर अय्यर एंड कंपनी को ट्रस्ट के लिए चार्टेड एकाउंटेंट नियुक्ति किया गया है.

 

'श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र' ट्रस्ट का अध्यक्ष बनाए जाने पर पहली प्रतिक्रिया देते हुए नृत्यगोपाल दास ने कहा, ''लोगों की भावना की कदर की जाएगी, जल्द से जल्द मंदिर का निर्माण होगा.'' साथ उन्होंने बड़ा बयान देते हुए कहा कि राम मंदिर का मॉडल वही रहेगा, लेकिन उसे ऊंचा और चौड़ा करने के लिए प्रारूप में थोड़ा बदलाव किया जाएगा.

वहीं, मणिराम दास छावनी के महंत नृत्य गोपालदास को ट्रस्ट का अध्यक्ष बनाए जाने पर अयोध्या में खुशी की लहर है. संतों ने भगवान पर पुष्प वर्षा कर आभार जताया.

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए केंद्र सरकार द्वारा गठित ट्रस्ट की पहली बैठक करीब सवा दो घंटे चली. जिसमें महंत धीरेंद्र दास, स्वामी परमानंद जी महाराज, वासुदेवानंद जी महाराज, कामेश्वर चौपाल, अवनीश अवस्थी, महंत गोविंद देव जी महाराज प्रसन्ना समेत चंपत राय, महंत नृत्य गोपाल दास मौजूद रहे. ट्रस्ट की बैठक में अयोध्या के राजा विमलेंद्र मोहन मिश्र और जिलाधिकारी अनुज झा भी शामिल हुए.