close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लखनऊ पीजीआई में भर्ती हुए चिन्‍मयानंद, SIT ने सीलबंद लिफाफे में पेश की प्रोग्रेस रिपोर्ट

लखनऊ स्थित पीजीआई में भर्ती कराया गया है. वहां डॉक्‍टरों की टीम उनका स्‍वास्‍थ्‍य परीक्षण कर रही है.

लखनऊ पीजीआई में भर्ती हुए चिन्‍मयानंद, SIT ने सीलबंद लिफाफे में पेश की प्रोग्रेस रिपोर्ट
स्‍वामी चिन्‍मयानंद अस्‍पताल में भर्ती. फाइल फोटो

लखनऊ/प्रयागराज: लॉ छात्रा के यौन शोषण के आरोप में 14 दिन की न्‍यायिक हिरासत में भेजे गए पूर्व केंद्रीय मंत्री स्‍वामी चिन्‍मयानंद (swami chinmayanand) की तबीयत सोमवार को अचानक बिगड़ गई. इसके बाद उन्‍हें लखनऊ स्थित एसजीपीजीआई में भर्ती कराया गया है. वहां डॉक्‍टरों की टीम उनका स्‍वास्‍थ्‍य परीक्षण कर रही है.

इसके साथ ही विशेष जांच दल (एसआईटी) ने आज स्‍वामी चिन्‍मयानंद केस की प्रोग्रेस रिपोर्ट इलाहाबाद हाईकोर्ट में पेश कर दी है. एसआईटी की ओर से 3 सीलबंद लिफाफे में प्रोग्रेस रिपोर्ट पेश की गई है. एसआईटी ने सबूत के तौर पर पेन ड्राइव, सीडी व अन्य डाक्यूमेंट भी कोर्ट में पेश किए हैं. एसआईटी आईजी नवीन अरोड़ा भी कोर्ट में मौजूद हैं. पीड़िता और उसके परिजन भी सुनवाई के दौरान कोर्ट में मौजूद हैं. केस की सुनवाई जस्टिस मनोज मिश्र और जस्टिस मंजूरानी चौहान की डिवीजन बेंच में चल रही है.

देखें LIVE TV

एसआईटी ने स्वामी चिन्मयानन्द से रंगदारी मांगने वाले तीन युवकों के अलावा छात्रा को भी आरोपी बनाया है. गिरफ्तार तीनों युवक छात्रा के दोस्त बताए जा रहे हैं. तीनों ने एसआईटी के सामने रंगदारी मांगने की बात भी कबूल कर ली है. तीनों युवकों को एसआईटी पहले ही जेल भेज चुकी है. छात्रा की भी रंगदारी के आरोप में गिरफ्तारी की जा सकती है.