सीतापुर: तलाब में डूबने से एक 8 वर्षीय बच्ची समेत दो लड़कों की मौत

सीतापुर (Sitapur) जिले के अलग-अलग थाना क्षेत्र में डूबने से एक बच्ची समेत दो लड़को की मौत हो गई..

सीतापुर: तलाब में डूबने से एक 8 वर्षीय बच्ची समेत दो लड़कों की मौत

राजकुमार दीक्षित/सीतापुर: यूपी के सीतापुर जिले के अलग-अलग थाना क्षेत्र में डूबने से एक बच्ची और दो लड़कों की मौत हो गई. पहली घटना रेउसा थाना क्षेत्र का है, जहां पर शौच के लिए गई बच्ची का तलाब में डूबने से मौत हो गई. जबकि दूसरी घटना सेवता से सामने आई है, जहां पर तलाब में एक अज्ञात युवक का शव मिला है. तीसरी घटना बिसवां कोतवाली की है, जहां पर भैंस को नहलाते समय नदी में डूबने से एक किशोर की मौत हो गई. 

गांव में पसरा मातम 
रेउसा थाना क्षेत्र के सरैया निवासी मुकेश गौतम की 8 वर्षीय पुत्री मोनिका तालाब के किनारे शौच के लिए गई हुई थी, तभी अचानक उसका पैर फिसल जाने से वह तालाब में जा गिरी. तालाब में दूर से ही मोनिका अपने बचाव में शोर मचाने लगी. मोनिका की आवाज सुनकर पास से गुजर रहे गांव के ही शिवा तालाब में कूदकर मोनिका की जान बचाने का प्रयास किया. लेकिन शिवा जब तक तालाब में कूदता उससे पहले मासूम मोनिका तालाब में डूब गई. जिससे उसकी मौत हो गई.

शिवा ने तालाब में डूबी बच्ची मोनिका के शव को बाहर निकाला और उसके परिजनों को सूचना दी. मोनिका की तालाब में डूब कर हुई मौत की सूचना मिलते ही परिवार में कोहराम मच गया. आनन-फानन में परिवार वाले मौके पर पहुंचे. गांव वालों ने घटना की सूचना थाना पुलिस सहित तहसील प्रशासन को दी.मौके पर रेउसा थाने की पुलिस सहित लेखपाल निलेश कुमार यादव व कानूनगो देशराज यादव मौके पर पहुंचे.

नहीं हो सकी शिनाख्त
इसी क्रम में तालाब से डूबने की एक अन्य घटना में थाना क्षेत्र के सेवता से सामने आई है. एक युवक का शव तालाब में उतराते हुए मिला. सूचना पाकर मौके पर पहुंचे पुलिसकर्मियों ने युवक के शव को तालाब से बाहर निकाला. पुलिस ने युवक की शिनाख्त के लिए काफी प्रयास किया. लेकिन युवक की शिनाख्त नहीं हो सकी पुलिस ने दोनों ही शवों का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. 

भैंसों को नहलाते समय नदी में डूबा युवक 
वहीं, बिसवां कोतवाली थाना क्षेत्र के बोहरा निवासी सुमित अपने चाचा सुरेश के साथ भैंसों को चराने के लिए किवानी नदी के किनारे ले गया था. इसी बीच सुमित अपनी बहनों को नहलाने के लिए नदी में ले गया. बताते हैं कि सुमित भैंसों को नहला ही रहा था तभी वह अचानक से गहरे पानी में पहुंच गया और डूबने लगा. चाचा के शोर मचाने पर आस-पास मौजूद ग्रामीणों ने किसी तरह से सुमित को बाहर निकाला और इलाज के लिए सांडा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. सुमित की मौत की खबर मिलते ही घर वालों में कोहराम मच गया और परिवार वाले आनन-फानन में स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे.

WATCH LIVE TV