उत्तरकाशी में बनेगा हिम तेंदुओं का संरक्षण केंद्र, CM रावत ने वन मंत्री के साथ बैठक कर लिया फैसला

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने 1 अगस्त को वन मंत्री डॉ. हरक सिंह रावत और वन विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की. जिसमें  उत्तरकाशी वन प्रभाग क्षेत्र में हिम तेंदुए का संरक्षण केंद्र बनाने का निर्णय लिया गया. यह संरक्षण केंद्र भैरो घाटी के लंका नामक स्थान पर बनाया जायेगा.

उत्तरकाशी में बनेगा हिम तेंदुओं का संरक्षण केंद्र, CM रावत ने वन मंत्री के साथ बैठक कर लिया फैसला
सांकेतिक तस्वीर

देहरादून: उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने 1 अगस्त को वन मंत्री डॉ. हरक सिंह रावत और वन विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की. जिसमें  उत्तरकाशी वन प्रभाग क्षेत्र में हिम तेंदुए का संरक्षण केंद्र बनाने का निर्णय लिया गया. यह संरक्षण केंद्र भैरो घाटी के लंका नामक स्थान पर बनाया जायेगा.

सीएम रावत ने राज्य में हिम तेंदुओं की गणना के आदेश दिए हैं. साथ ही सीएम ने कहा कि हिम तेंदुओं के सरंक्षण एवं इनकी संख्या में वृद्धि के लिए विशेष प्रयास किये जाए.

बता दें कि पिछले कुछ वर्षों में जिन क्षेत्रों में हिम तेंदुए देखे गये हैं. वन विभाग उन सभी क्षेत्रों को वहां के स्थानीय लोगों और सैन्य बलों के सहयोग चिह्नित किये जाएंगे.

ये भी पढ़ें-'वीमेन सेफ्टी' के लिए पुलिस ने उठाए ये कदम, महिला पुलिसकर्मी करेंगी पेट्रोलिंग

सीएम ने कहा कि ऐसे क्षेत्रों में ग्रिड बनाकर इनकी गणना की जाए. मुख्यमंत्री का कहना है कि हिम तेंदुए और अन्य वन्य जीवों के संरक्षण से राज्य में विन्टर टूरिज्म को बढ़ावा मिलेगा. उन्होंने बताया कि उत्तराखंड के पर्वतीय क्षेत्रों में वन्य जीवों की अनेक प्रजातियां हैं, जो पर्यटकों के आर्कषण का केन्द्र बनती हैं.

मुख्यमंत्री का कहना है कि उत्तराखंड के प्राकृतिक एवं नैसर्गिक सौन्दर्य में वन एवं वन्य जीवों का महत्वपूर्ण योगदान है. वन्य जीवों की लुप्त हो रही प्रजातियों के संरक्षण की दिशा में प्रयासों की जरूरत है. लोग भी आज वन्य जीवों के संरक्षण के लिए हैं. 

Watch LIVE TV-